MP: बैतूल कोर्ट के जज और बेटे की फूड पॉइजनिंग से नागपुर में मौत
Betul News in Hindi

MP: बैतूल कोर्ट के जज और बेटे की फूड पॉइजनिंग से नागपुर में मौत
बैतूल कोर्ट के जज महेन्द्र त्रिपाठी की नागपुर में मौत हो गई

बैतूल (Betul) के अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश महेंद्र त्रिपाठी (56) (Judge Mahendra Tripathi) की रविवार सुबह मृत्यु हुई, जबकि उनके बेटे अभियानराज (33) की शनिवार रात को अस्पताल में मौत हो गई थी.

  • Share this:
बैतूल. मध्यप्रदेश के बैतूल में जिला अदालत (Betul District Court) के न्यायाधीश और उनके पुत्र की कथित तौर पर फूड पॉइजनिंग (Food Poisoning) के इलाज के दौरान नागपुर (Nagpur) के एक अस्पताल में मौत हो गयी. अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (एएसपी) श्रद्धा जोशी ने बताया कि बैतूल के अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश महेंद्र त्रिपाठी (56) (Judge Mahendra Tripathi) की रविवार सुबह मृत्यु हुई, जबकि उनके बेटे अभियानराज (33) की शनिवार रात को अस्पताल में मौत हो गई थी.

23 को पिता-पुत्र की बिगड़ी थी हालत 

एएसपी ने बताया कि न्यायाधीश और उनके बेटे ने 20 जुलाई को परिवार के साथ घर में भोजन किया. भोजन में त्रिपाठी और उनके पुत्र ने चपाती खायीं, जबकि त्रिपाठी की पत्नी ने सिर्फ चावल खाये. न्यायाधीश और उनके बेटे को 23 जुलाई को बीमार होने के बाद स्थानीय पाढ़र अस्पताल में भर्ती कराया गया. शनिवार को उनकी हालत अधिक खराब होने पर दोनों को नागपुर के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया.



आटे की होगी जांच 
जोशी ने बताया कि जिस आटे से रोटियां बनाई गयीं थीं उस आटे का नमूना जांच के लिये भेजा जाएगा. विसरा की भी जांच की जायेगी. उन्होंने बताया कि पोस्टमार्टम नागपुर में किया जायेगा तथा शवों को गृहनगर कटनी भेजा जायेगा. उन्होंने बताया कि पुलिस मामले की विस्तृत जांच कर रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading