अपना शहर चुनें

States

Betul : पुलिस पूछताछ के बाद घर लौटे युवक ने की आत्महत्या, TI लाइन अटैच

ग्रामीणों का पुलिस पर आरोप है कि उन्होंने सियाराम को थाने में बुरी तरह पीटा और रिश्वत मांगी
ग्रामीणों का पुलिस पर आरोप है कि उन्होंने सियाराम को थाने में बुरी तरह पीटा और रिश्वत मांगी

Betul : तनाव बढ़ते देख पुलिस प्रशासन बैकफुट पर आ गया. बैतूल एसपी ने चिचोली थाना प्रभारी को तत्काल लाइन अटैच कर दिया और मामले की निष्पक्ष जांच के लिये टीम बना दी

  • Share this:
बैतूल.बैतूल (Betul) के सेहरा गांव में एक युवक की आत्महत्या (Suicide) के बाद चिचौली थाने के टीआई को लाइन अटैच कर दिया गया है. युवक को हत्या के दो साल पुराने एक मामले में पूछताछ के लिए पुलिस ले गयी थी. थाने से लौटने के बाद युवक ने आत्महत्या कर ली. उसके परिवार ने पुलिस पर प्रताड़ना का आरोप लगाते हुए लाश सड़क पर रखकर चक्काजाम किया था.

बैतूल के सेहरा गांव में दो साल पहले हुए एक अंधे कत्ल के मामले में पूछताछ के लिए थाने लाए गए मृतक के दोस्त सियाराम धुर्वे ने भी जहर खाकर आत्महत्या कर ली. उसके बाद गांव मे पुलिस के खिलाफ आक्रोश बढ़ गया और हालात तनावपूर्ण हो गए. ग्रामीणों ने सियाराम का शव चिचोली थाने के सामने रखकर थाने का घेराव कर दिया. ग्रामीणों का पुलिस पर आरोप है कि उन्होंने सियाराम को थाने में बुरी तरह पीटा और रिश्वत मांगी.इससे घबराए सियाराम ने घर लौटकर आत्महत्या कर ली. तनाव को देखते हुए एसपी ने टीआई को तत्काल लाइन अटैच कर दिया.

2 साल पहले हुई थी हत्या
दो साल पहले सेहरा गांव में एक युवक का कत्ल हुआ था.उस अंधे कत्ल की गुत्थी पुलिस अब तक सुलझा नहीं पाई. 14 जनवरी को वो उसी केस के सिलसिले में पूछताछ के लिए मृतक के करीबी दोस्त  सियाराम धुर्वे को पूछताछ के लिये ले गयी थी. उसने घर वापस आने के बाद जहर खाकर आत्महत्या कर ली.सियाराम की पत्नी का आरोप है पुलिस ने सियाराम के साथ मारपीट की और उससे रिश्वत भी मांगी. वो थाने से वापस आकर काफी परेशान था.
थाने का घेराव


आक्रोशित ग्रामीणों ने सियाराम का शव चिचोली थाने के सामने रखकर घेराव किया जिससे हालात तनावपूर्ण हो गए. ग्रामीणों ने तत्काल टीआई सहित चार आरक्षकों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज करने की मांग रखी. ग्रामीणों के मुताबिक पुलिस हत्या की गुत्थी सुलझाने के लिए जबरदस्ती बेकसूर सियाराम को उलझाना चाहती थी.

जांच टीम बनायी
तनाव बढ़ते देख पुलिस प्रशासन बैकफुट पर आ गया. बैतूल एसपी ने चिचोली थाना प्रभारी को तत्काल लाइन अटैच कर दिया और मामले की निष्पक्ष जांच के लिये टीम बना दी. कलेक्टर ने सियाराम के परिवार को 10 हज़ार की सरकारी आर्थिक सहायता दी. हालांकि पुलिस ये मानने तैयार नहीं है कि सियाराम से कोई रिश्वत मांगी गई थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज