Home /News /madhya-pradesh /

पोते का कंधा टूटा तो दादी ने गर्म सलाखों से 50 बार दागा, अब बच्चे की हालत गंभीर

पोते का कंधा टूटा तो दादी ने गर्म सलाखों से 50 बार दागा, अब बच्चे की हालत गंभीर

बैतूल के भीमपुर ब्लॉक के खैरी गांव एक बच्चे में कंधे में फ्रैक्चर होने पर दादी ने उसे गर्म सरिया से दागा.

बैतूल के भीमपुर ब्लॉक के खैरी गांव एक बच्चे में कंधे में फ्रैक्चर होने पर दादी ने उसे गर्म सरिया से दागा.

Superstition in Betul : बैतूल (Betul) के खैरी गांव में फिर अंधविश्वास ने एक बच्चे की जान खतरे में डाल दी है. बच्चे के कंधे में फ्रैक्चर होने पर उसका अज्ञानता से भरा इलाज कर दिया गया. उसके कंधे पर इतनी बार गर्म सलाखें लगायी गयीं कि वो बुरी तरह झुलस गया.

अधिक पढ़ें ...

बैतूल. मध्य प्रदेश के पिछड़े और आदिवासी इलाकों (Tribal Area) में अब भी अंधविश्वास लोगों की सेहत पर भारी पड़ रहा है. बैतूल (Betul) के एक ग्रामीण इलाके में इसी अज्ञानता और अंधविश्वास के कारण एक बच्चे की जान पर बन आयी है. बच्चे के कंधे में फ्रैक्चर हो गया था. बच्चे की दादी ने अस्पताल ले जाकर इलाज कराने के बजाए उसे गर्म सलाखों से दाग दिया.

ये रोंगटे खड़े कर देने वाला वाकया इस बार बैतूल जिले के खैरी गांव में हुआ. बच्चे की दादी ने उसे गर्म सलाखों से दागा जिसे ग्रामीण लोग डमा कहते हैं. बच्चे की हालत अब गंभीर बनी हुई है.

आदिवासी इलाकों में जान से खिलवाड़
बैतूल का खैरी गांव भीमपुर ब्लॉक में है. ये घोर आदिवासी इलाका है. यहां अब भी लोग आधुनिक इलाज के बजाए पुरातन पंथी तरीके अपना रहे हैं जो जानलेवा साबित हो सकता है. गांव का 9 साल का एक बालक आयुष बारस्कर सड़क पर गिर पड़ा था. इससे उसके दाएं कंधे में फ्रैक्चर हो गया था. दर्द से कराहते आयुष को ग्रामीण उसके घर लेकर पहुंचे. यहां आयुष की दादी ने उसका दर्द कम करने के लिए अस्पताल ले जाने के बजाए लोहे का सरिया गर्म करके उसे दागना शुरू कर दिया. गांव में इसे डमा कहा जाता है. दादी ने ऐसा एक बार नहीं बल्कि 50 बार किया. तब तक तो बच्चा बुरी तरह झुलस चुका था.

बच्चे की मां आंगनवाड़ी कार्यकर्ता
इस अमानवीय तरीके से आयुष की हालत सुधरने के बजाए बिगड़ती चली गयी. आयुष की मां आंगनवाड़ी कार्यकर्ता है. घटना के वक्त वो ड्यूटी पर गयी थी. उन्हें जैसे ही जिसे आयुष को डमा लगाने की खबर मिली वो फौरन बच्चे को लेकर भीमपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचीं और उसे भर्ती किया. बच्चे की हालत देखते हुए उसे फौरन जिला अस्पताल रैफर किया गया. फिलहाल बच्चे की हालत स्थिर बनी हुई है. पुलिस प्रशासन के मुताबिक पूरे मामले में बच्चे की दादी का दोष साफ समझ आ रहा है और उस पर कार्रवाई की जाएगी.

Tags: Betul district, Madhya pradesh news, Tribal cultural

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर