होम /न्यूज /मध्य प्रदेश /मध्य प्रदेश: बोरवेल में जिंदगी की जंग हारा तन्मय, शिवराज सरकार देगी 4 लाख रुपये की आर्थिक सहायता

मध्य प्रदेश: बोरवेल में जिंदगी की जंग हारा तन्मय, शिवराज सरकार देगी 4 लाख रुपये की आर्थिक सहायता

बैतूल के मंडावी गांव का तन्मय साहू बोरवेल में 55 फीट की गहराई पर जाकर फंस गया था.

बैतूल के मंडावी गांव का तन्मय साहू बोरवेल में 55 फीट की गहराई पर जाकर फंस गया था.

Death of Tanmay Sahu trapped in borewell in Betul: मध्य प्रदेश के बैतूल जिले में बोरवेल में गिरने से मौत के शिकार हुए आ ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

बैतूल के मंडावी गांव में हुआ था हादसा
सीएम शिवराज सिंह ने जताया हादसे पर शोक
चार दिन पहले 6 दिसंबर को बोरवेल में गिरा था तन्मय

बैतूल. मध्य प्रदेश के बैतूल जिले के मंडावी गांव में बोरवेल में गिरने के बाद जिंदगी की जंग हारने वाले 8 वर्षीय मासूम तन्मय साहू (Tanmay Sahu) के परिजनों को शिवराज सिंह सरकार (Shivraj Singh government) चार लाख रुपए की आर्थिक सहायता मुहैया करवाएगी. सीएम शिवराज सिंह ने तन्मय की मौत शोक व्यक्त करते हुए राहत राशि की घोषणा की है. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी. सिंह ने अपने ट्वीट में कहा कि अत्यंत दुखद है कि बैतूल के मांडवी गांव में बोरवेल में गिरे नन्हे तन्मय को प्रशासन के अथक प्रयासो के बाद भी नहीं बचाया जा सका.

सीएम शिवराज सिंह ने आगे लिखा कि ईश्वर से दिवंगत आत्मा की शांति और परिजनों को यह वज्रपात सहन करने की शक्ति देने की प्रार्थना करता हूं. दुःख की इस घड़ी में तन्मय का परिवार स्वयं को अकेला न समझे. मैं और संपूर्ण मध्यप्रदेश परिवार के साथ है. राज्य सरकार की ओर से पीड़ित परिवार को 4 लाख रुपये की आर्थिक सहायता दी जाएगी. ईश्वर दिवंगत आत्मा को अपने श्री चरणों में स्थान दें. विनम्र श्रद्धांजलि!

चार दिन पहले 6 अक्टूबर को गिरा था बोरवेल में
आठ साल का तन्मय चार दिन पहले 6 दिसंबर को मंडावी गांव में खेलने के दौरान गहरे एक बोरवेल में गिर गया था. घटना के बाद तन्मय को बचाने के लिए बड़े स्तर पर रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया गया था. चार दिन तक चले मैराथन रेस्क्यू ऑपरेशन के बावजूद तन्मय को बचाया नहीं जा सका. तन्मय को घटना के करीब 84 घंटे के बाद बाहर तो निकाल लिया गया लेकिन उसका जीवन बचाया नहीं जा सका. हालांकि तन्मय को बाहर निकालते ही तुरंत अस्पताल ले जाया गया था, लेकिन वहां डॉक्टर्स ने उसे मृत घोषित कर दिया. इससे उसके परिजनों में कोहराम मच गया.

55 फीट की गहराई पर जाकर फंस गया था तन्मय
तन्मय बोरवेल में 55 फीट की गहराई पर जाकर फंस गया था. सीएम शिवराज सिंह चौहान खुद पूरे रेस्क्यू ऑपरेशन पर लगातार नजर बनाए हुए थे लेकिन तमाम प्रयासों के बावजूद तन्मय रेस्क्यू टीमें उसे बचाने में सफल नहीं हो पाई. रेस्क्यू ऑपरेशन के लिए भोपाल और होशंगाबाद से एसडीआरएफ की टीमें भी बुलाई गई थी. रेस्क्यू ऑपरेशन के दौरान तन्मय को लगातार ऑक्सीजन की आपूर्ति भी की गई थी. रेस्क्यू टीमों ने तन्मय को आखिरकार बाहर भी निकालने में सफलता भी कर कर ली लेकिन तब तक वह जिंदगी की जंग हार चुका था.

Tags: Betul news, CM Shivraj Singh Chauhan, Madhya pradesh news

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें