• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • UPSC RESULT 2020 : मां ने कहा-बेटा तू कलेक्टर क्यों नहीं बन जाता और श्रेयांस ने सच कर दिया सपना

UPSC RESULT 2020 : मां ने कहा-बेटा तू कलेक्टर क्यों नहीं बन जाता और श्रेयांस ने सच कर दिया सपना

UPSC RESULT 2020 श्रेयांस के ईमानदार प्रयास का ही फल है कि वो एक ही प्रयास में सलेक्ट हो गए.

UPSC RESULT 2020 श्रेयांस के ईमानदार प्रयास का ही फल है कि वो एक ही प्रयास में सलेक्ट हो गए.

Betul News : बैतूल के कर सलाहकार विमल सुराणा के बेटे और पेशे से चार्टेड अकाउंटेंट श्रेयांस सुराणा ने महज 24 साल की उम्र और पहले ही प्रयास में यूपीएससी की परीक्षा पास कर ली है. इससे पहले एक ही कोशिश में वो सीए (CA) और सीएस (CS) की परीक्षा भी पास कर चुके हैं.

  • Share this:

बैतूल. मां ने कहा बेटा तू कलेक्टर क्यों नहीं बन जाता. बस मां की बात ऐसी मन में बैठी कि होनहार बेटे ने ये सच कर दिखाया. वो UPSC (UPSC RESULT 2020 ) की परीक्षा में बैठा और पहली ही बार में सफल हो गया. बेटा अब कलेक्टर (Collector) बनने की राह पर बढ़ चला है. हम बात कर रहे हैं पेशे से चार्टेड अकाउंटेंट बैतूल के श्रेयांस सुराणा की जो शुक्रवार को आए UPSC 2020 परीक्षा में भी सफल घोषित हुए हैं. श्रेयांस की 269वी रैंक आई है.

श्रेयांस की मां का मन था कि उनका होनहार बेटा कलेक्टर बने. उन्होंने एक दिन बातों बातों में श्रेयांस से कहा तुम कलेक्टर क्यों नहीं बन जाते. बेटे ने मां की बात मान ली और UPSC की परीक्षा देने के लिए जो नौकरी कर रहा था वो भी छोड़ दी औऱ UPSC परीक्षा के लिए रात दिन एक कर दिया. और ये श्रेयांस के ईमानदार प्रयास का ही फल है कि वो एक ही प्रयास में सफल हो गए.

पहले ही प्रयास में सफल

यह कोई कहानी नहीं बल्कि हकीकत है. बैतूल के श्रेयांस सुराणा की जिसने महज 24 साल की उम्र में ही देश की सबसे प्रतिष्ठित यूपीएससी परीक्षा पास कर 269वां स्थान हासिल कर लिया. श्रेयांस इससे पहले भी एक ही प्रयास में सीए और सीएस जैसी परीक्षाएं भी पास कर चुके हैं लेकिन मां तो बेटे को कलेक्टर के पद पर बैठा देखना चाहती हैं.

पहली ही कोशिश में CA और CS परीक्षा पास

देश की सबसे कठिन और प्रतिष्ठित परीक्षा यूपीएससी के नतीजे आते ही बैतूल जिले में भी खुशियां मनाई जा रही हैं. बैतूल के कर सलाहकार विमल सुराणा के बेटे और पेशे से चार्टेड अकाउंटेंट श्रेयांस सुराणा ने महज 24 साल की उम्र  और पहले ही प्रयास में यूपीएससी की परीक्षा पास कर ली है. पिता बताते हैं कि श्रेयांस पढ़ाई के प्रति इतना जुनूनी है कि उसने इससे पहले एक ही कोशिश में सीए और सीएस की परीक्षा भी पास कर ली थी. श्रेयांस की मेहनत के कायल उसके घर ही नहीं बल्कि बाहर के लोग भी हैं.

UPSC परीक्षा देने की दिलचस्प कहानी

श्रेयांस के UPSC परीक्षा पास करने के पीछे भी एक दिलचस्प कहानी है. श्रेयांस पेशे से चार्टेड अकाउंटेंट है और वो अच्छी खासी नौकरी कर रहा था. लेकिन एक दिन मां ने अखबार पढ़ते हुए श्रेयांस से कहा कि जब मजदूर के होनहार बच्चे भी कलेक्टर बन जाते हैं तो तुम इतने होनहार हो फिर एक बार कोशिश क्यों नहीं करते. श्रेयांस ने मां की बात फौरन मान ली और नौकरी छोड़कर यूपीएससी की पढ़ाई में जुट गया. केवल डेढ़ साल की मेहनत के बाद श्रेयांस ने आज ये मुकाम हासिल कर लिया .

बचपन से होनहार हैं श्रेयांस

श्रेयांस के परिवार वाले बताते हैं कि वो बचपन से ही जीनियस रहा है. कई बार उसके सवालों का जवाब उसके टीचर्स के पास भी नहीं होता था. फिलहाल श्रेयांस दिल्ली में है. लेकिन उनकी सफलता की गूंज बैतूल सहित पूरे मध्यप्रदेश में सुनाई दे रही है. मां के एक बार कहने पर 24 साल का जो बेटा यूपीएससी जैसी परीक्षा पहली कोशिश में पार कर ले वो वाकई लाखों में एक होता है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज