अपना शहर चुनें

States

COVID-19 : कोरोना वायरस से बचने के लिए ये सेनेटाइजिंग यूनिट Made in BETUL है

बैतूल के युवकों ने बनायी फुल बॉडी सेनिटाइजिंग यूनिट
बैतूल के युवकों ने बनायी फुल बॉडी सेनिटाइजिंग यूनिट

इस सेनिटाइज़िंग यूनिट को केवल दो दिन में और मात्र 6 हज़ार की लागत से बनाया गया है. इसमें बिल्कुल साधारण तकनीक का इस्तेमाल किया गया है. इसे किसी भी समय तत्काल सुधारा जा सकता है. कुशकुंज और जबजोत का दावा है कि इसमें केवल 5 सेकंड के अंदर पूरी बॉडी सेनिटाइज़ हो जाएगी.

  • Share this:
बैतूल.कोरोना वायरस (corona virus) से लड़ाई में हम ज़रूर जीतेंगे क्योंकि देश की युवा शक्ति भी हर मोर्चे पर अपना योगदान दे रही है.  इसी भावना के साथ बैतूल के दो युवकों ने फुल बॉडी सेनिटाइजिंग यूनिट (Full Body Sanitizing Unit) बनायी है. ये मशीन उन्होंने जिला अस्पताल को डोनेट की है. जिससे अस्पताल में आने वाला हर व्यक्ति अच्छी तरह सेनिटाइज हो जाए और जिला अस्पताल में संसाधनों की कमी भी कुछ हद तक पूरी की जा सके. दोनों युवकों के मुताबिक कोरोना से लड़ाई में हर युवा को इसी तरह अपना फर्ज निभाना होगा.

इन दिनों सरकारी अस्पतालों में संसाधनों की भारी कमी देखने मिल रही है. ऐसे माहौल में हमारे देश के युवा अपना जुगाड़ू दिमाग ना दौड़ाएं ऐसा तो हो नही सकता है. ताज़ा मिसाल है ये मेड इन बैतूल बॉडी सेनिटाइजर यूनिट जिसे कुशकुंज अरोरा और जबजोत सिंह साहनी ने मिलकर बेहद कम लागत और केवल दो दिन में तैयार कर लिया है.

5 मिनट में सेनिटाइज
इस सेनिटाइज़िंग यूनिट को केवल दो दिन में और मात्र 6 हज़ार की लागत से बनाया गया है. इसमें बिल्कुल साधारण तकनीक का इस्तेमाल किया गया है. इसे किसी भी समय तत्काल सुधारा जा सकता है. कुशकुंज और जबजोत का दावा है कि इसमें केवल 5 सेकंड के अंदर पूरी बॉडी सेनिटाइज़ हो जाएगी.
अस्पताल की मुहर


जिला अस्पताल के डॉक्टरों ने भी इस जुगाड़ से बनी यूनिट पर मुहर लगा दी है. डॉक्टरों के मुताबिक युवकों का प्रयास काबिल-ए-तारीफ है और उनकी इस इजाद से सेनिटाइज़िंग में काफी सहायता मिलेगी.

ये भी पढ़ें-

LOCKDOWN : प्रदेश की सीमा पर अटके सैकड़ों ट्रक, करोड़ों के कारोबार का नुक़सान

रीवा में कोरोना ने दी दस्तक, SGMH में मरीज के भर्ती होने से मचा हड़कंप

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज