लाइव टीवी

भिंड के गौरी सरोवर में गिरी गाड़ी : कांवड़ लेकर आए 3 युवकों की डूबने से मौत
Bhind News in Hindi

Anil Sharma | News18 Madhya Pradesh
Updated: February 21, 2020, 8:31 AM IST
भिंड के गौरी सरोवर में गिरी गाड़ी : कांवड़ लेकर आए 3 युवकों की डूबने से मौत
भिंड के गौरी सरोवर में कार के डूबने से ३ युवकों की मौत

कार सवार युवकों के साथी कांवड़ लेकर आए थे. उनके साथ ये लोग भी मंदिर आए थे. ड्राइवर कांवड़ चढ़ाने गया था. उसी दौरान एक युवक ने गाड़ी बैक करने की कोशिश और गाड़ी पर से नियंत्रण खो बैठा जिससे ये हादसा हुआ.

  • Share this:
भिंड. मध्य प्रदेश के भिंड (bhind) जिले में दिल दहला देने वाला सड़क हादसा (accident) हुआ. यहां के गौरी सरोवर में एक लग्जरी कार डूबने से उसमें सवार तीन युवकों (3 youth died) की मौत हो गई. तीनों भिंड के रहने वाले थे औऱ कांवड़ लेकर यहां के वन खंडेश्वर मंदिर आए थे. युवकों के शव बरामद कर लिए गए हैं.

भिंड में ये हादसा आधी रात करीब ढाई बजे हुआ. तेजी से आ रही एक लग्जरी कार अनियंत्रित होकर सरोवर में जा गिरी. शिवरात्रि होने के कारण रोड पर आवाजाही थी. लोगों ने तत्काल इसकी सूचना पुलिस को दी. सूचना मिलते ही कलेक्टर और एसपी टीम सहित मौके पर पहुंच गए और रेस्क्यू अभियान शुरू किया. क्रेन और जेसीबी की मदद से सरोवर में से कार और तीन युवकों की लाश बाहर निकाली गई. युवक भिंड के ही एक गांव के रहने वाले हैं. इनकी शिनाख्त ब्रज मोहन सिंह, चंद्रभान सिंह एवं ब्रज किशोर शर्मा के तौर पर हुई है.

गौरी सरोवर में गिरी कार
भिंड शहर के बीचों-बीच प्राचीन गौरी सरोवर स्थित है. इसी सरोवर के पास में 11वीं शताब्दी का वन खंडेश्वर मंदिर है. कहते हैं इसे पृथ्वीराज चौहान ने बनवाया था. महाशिवरात्रि के दिन इस मंदिर में सैकड़ों श्रद्धालु दर्शन करने पहुंचते हैं. बड़ी तादाद में कांवड़िए गंगाजल से भरी कांवड़ भगवान शिव पर चढ़ाते हैं. शिवरात्रि पर रात से ही यहां पर भक्तों का तांता लगना शुरू हो जाता है. इसी दौरान ये दर्दनाक हादसा हुआ. एक लक्जरी एसयूवी गाड़ी यहां बने गौरी सरोवर में जा गिरी. प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक गाड़ी बैक करते समय अचानक से वह तेज रफ्तार में गौरी सरोवर में जा समाई. कार में बैठे सभी लोग गौरी सरोवर में डूब गए.





ढाई घंटे चला रेस्क्यू ऑपरेशन
इसकी सूचना तत्काल पुलिस प्रशासन को दी गई. उसके बाद गोताखोरों की मदद से रेस्क्यू अभियान शुरू किया गया. लगभग ढाई घंटे बाद सरोवर से तीन युवकों की लाशें निकलीं. तीनों गाड़ी में फंसे थे और कार के गेट खुले हुए थे. प्रत्यक्षदर्शियों का कहना था कि कार में तीन से ज़्यादा लोग सवार थे. गाड़ी के गेट खुले होने के कारण इस अनुमान को बल मिला कि हो सकता है कुछ लोग गेट खोल कर बाहर कूदे हों.

कांवड़ लेकर आए थे युवक
जो जानकारी मिली है उसके अनुसार कार सवार युवकों के साथी कांवड़ लेकर आए थे. उनके साथ ये लोग भी मंदिर आए थे. ड्राइवर चाभी सौंप कर कांवड़ चढ़ाने गया था. इसी बीच इनमें से किसी युवक ने गाड़ी बैक करने की कोशिश और गाड़ी पर से नियंत्रण खो बैठा, जिसकी वजह से ये हादसा हुआ. तीनों मृतक एक ही गांव के रहने वाले थे. मृतकों के नाम ब्रज मोहन सिंह, चंद्रभान सिंह और ब्रज किशोर शर्मा हैं. चंद्रभान सिंह और ब्रजकिशोर शर्मा गंगा नदी से पैदल कांवड़ लेकर आए थे. ढाई घण्टे के रेस्क्यू के बाद तीनों शव निकाले जा सके.

परिवार ने की शिनाख्त
तीनों मृतकों के परिवार मौके पर पहुंच गए और उन्होंने अपने बेटों की शिनाख्त की. गाड़ी में कुछ और लोगों के होने की आशंका में रेस्क्यू ऑपरेशन जारी था. लेकिन परिवारों ने जब पुष्टि कर दी कि अब कोई और इस गाड़ी में नहीं था तब रेस्क्यू अभियान बंद किया गया.

ये भी पढ़ें-

CM कमलनाथ ने सर्जिकल स्ट्राइक पर PM मोदी से मांगे सबूत

दिग्विजय सिंह ISI एजेंट कहने वाले बीजेपी प्रवक्ताओं पर ठोकेंगे मानहानि का केस

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भिंड से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 21, 2020, 8:06 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर