लाइव टीवी

कनेरा सिंचाई परियोजना : 37 साल में तीन बार शिलान्यास, काम अब तक अधूरा

ETV MP/Chhattisgarh
Updated: August 31, 2017, 1:34 PM IST
कनेरा सिंचाई परियोजना : 37 साल में तीन बार शिलान्यास, काम अब तक अधूरा
सिंचाई परियोजना के लिए लाए गए पाइप सड़ने लगे हैं.

भिण्ड जिले के अटेर विधानसभा के लगभग सौ गांवों में किसानों की जमीन को सिंचित करने के लिए बनाई गई कनेरा सिंचाई परियोजना को राजनीति और अधिकारियोंं की लापरवाही व भ्रष्टाचार के चलते लगा ग्रहण लग चुका है.

  • Share this:
भिण्ड जिले के अटेर विधानसभा के लगभग सौ गांवों में किसानों की जमीन को सिंचित करने के लिए बनाई गई कनेरा सिंचाई परियोजना को राजनीति और अधिकारियोंं की लापरवाही व भ्रष्टाचार के चलते लगा ग्रहण लग चुका है. एक-दो नहीं, पूरे तीन बार इस परियोजना का शिलान्यास हुआ, लेकिन फिर भी परियोजना 37 साल से अधर मेंं लटकी हुई है.

अटेर विधानसभा में चम्बल नदी पर बनाई गई कनेरा सिंचाई परियोजना तत्कालीन जनता दल विधायक शिवशंकर मुन्ना समाधिया के अथक प्रयासों से 3 करोड़ 97 लाख 59 हजार 800 रुपए की लागत से 1979 में शुरू की गई थी. जिसका प्रथम शिलान्यास संसदीय सचिव सिंचाई विभाग जहार सिंह शर्मा द्वारा किया गया था. लेकिन बाद में इस योजना की लागत बढ़कर 100 करोड़ रुपए के ऊपर पहुंच गई. बाद में कांग्रेस की सरकार आने पर एक बार फिर से अटेर के तत्कालीन विधायक सत्यदेव कटारे के प्रयास से माधवराव सिंधिया द्वारा दूसरी बार इस योजना का शिलान्यास 1986 में किया गया था. ये दोनों ही नेता अब इस दुनिया मे नहीं रहे और उनके जीते जी योजना प्रारम्भ नहीं हो सकी.

लगभग 100 गांवों की जमीन को सींचने वाली इस परियोजना का तीसरी बार शिलान्यास भाजपा की सरकार में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा फूप में आयोजित अंत्योदय मेले से 2008 को किया गया. लेकिन अभी तक योजना जस तस की पड़ी हुई है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भिंड से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 31, 2017, 1:34 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...