भिंड में शादियों के सीजन में फिर बढ़ी कैश की किल्लत

भिण्ड जिले में एक बार फिर कैश की किल्लत बढ़ गई है. शादियों के सीजन में कैश से लोगों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. यहां पर एटीएम में कैश नहीं है.

Anil Sharma | News18 Madhya Pradesh
Updated: June 14, 2018, 3:31 PM IST
भिंड में शादियों के सीजन में फिर बढ़ी कैश की किल्लत
शहर का बंद पड़ा एक एटीएम
Anil Sharma | News18 Madhya Pradesh
Updated: June 14, 2018, 3:31 PM IST
भिण्ड जिले में एक बार फिर कैश की किल्लत बढ़ गई है. शादियों के सीजन में कैश से लोगों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. यहां पर एटीएम में कैश नहीं है. सारे एटीएम खाली पड़े हुए हैं. अगर किसी एटीएम में कैश आता है तो वहां कैश निकालने के लंबी लंबी लाइनों में लोग लग जाते हैं. लेकिन कुछ ही समय में यह कैश खत्म भी हो जाता है. इसके चलते घंटों लाइन में लगे रहने के बाद भी लोगों को खाली हाथ वापस जाना पड़ता है. मामले में कोई भी बैंक अधिकारी कुछ भी बोलने को तैयार नहीं है.ऐसे में सबसे ज्यादा परेशानी उन लोगों को हो रही है जिनके घरों में शादियां हैं. उनको जरूरी कैश नहीं मिल पा रहा है.

अपना ही जमा  कैश ना मिलने के चलते लोगों को साहूकारों और बड़े व्यापारियों से पैसा ब्याज पर लेना पड़ रहा है ताकि वो अपने घर में अपने बच्चों की शादी कर सकें. वहीं अपने बहुत जरूरी कामों के लिए भी लोगों को कई दिनों तक एटीएम के चक्कर लगाने के बाद भी कैश नहीं मिल पा रहा है.

जिले के बैंकों में कैश की किल्लत को लेकर जब कलेक्टर आशीष कुमार गुप्ता से बात की गई तो उन्होंने बताया कि बैंकों में केश संकट की जानकारी उन्हें जनता के द्वारा लगी है.उन्होंने  तत्काल एसडीएम एवं एसबीआई के मैनेजर से बात की तो उन्होंने बताया कि बैंको में केश तो आ रहा है परन्तु आवश्यकता के अनुरूप राशि नहीं आ रही है. इसी लिए उन्होंने आरबीआई को पत्र लिख पचास करोड़ की मांग की  है.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर