होम /न्यूज /मध्य प्रदेश /Bhind News: रोज तैरकर मंदिर में दीया जलाने जाता है ये भक्त, 35 साल पहले की थी शुरुआत

Bhind News: रोज तैरकर मंदिर में दीया जलाने जाता है ये भक्त, 35 साल पहले की थी शुरुआत

भिंड में माता के एक भक्त ने भक्ति की अनूठी मिसाल पेश की है. उम्र भले ही उनकी 65 हो, लेकिन वह पिछले 35 सालों से माता के ...अधिक पढ़ें

रिपोर्ट: अरविंद शर्मा

भिंड: कहते हैं कि भक्ति में बहुत शक्ति होती है. इसका जीता-जागता उदाहरण भिंड जिले में देखने को मिल रहा है. यहां एक 65 वर्षीय भक्त माता सती की भक्ति में लीन है. चाहे कड़ाके की सर्दी हो या बारिश का मौसम, यह भक्त हर सुबह नदी में तैरकर मंदिर में दीया जलाने जाता है. पिछले कई सालों से भक्ति का यह क्रम जारी है, जो एक भी दिन के लिए नहीं रुका.

भिंड की गौरी नदी में सती माता का प्राचीन मंदिर है, जो नदी के बीचो बीच बना हुआ है. अन्य भक्तों के लिए यहां पहुंच पाना सहज नहीं है, लेकिन 65 वर्षीय विवेक कुमार त्रिपाठी सर्दी, गर्मी या बरसात हर मौसम में प्रतिदिन गौरी सरोवर में तैरकर सती माता मंदिर में दीपक जलाने जाते हैं. इस अनोखी भक्ति की शुरुआत उन्होंने 35 साल पहले की थी.

असामाजिक तत्वों को हटा कर शुरू की पूजा

शहर के वनखंडेश्वर मंदिर के पास रहने वाले विवेक कुमार त्रिपाठी उर्फ पप्पू दादा ने बताया, वैसे तो मैं लखनऊ का रहने वाला हूं, लेकिन 62 सालों से भिंड में ही रह रहा हूं. 35 साल पहले इस मंदिर के आसपास असामाजिक तत्व बैठे रहते थे. तब मंदिर के आसपास पानी नहीं था और आसानी से मंदिर तक पहुंचा जा सकता था. मंदिर से असामाजिक तत्वों को हटाने और वहां पूजा शुरू करने के उद्देश्य से मंदिर में दीपक जलाने की शुरुआत उन्होंने की थी.

पानी बढ़ा तो लोगों ने मंदिर जाना बंद कर दिया

विवेक ने बताया कि कुछ साल बाद मंदिर के आसपास नदी का जलस्तर बढ़ने लगा. धीरे-धीरे नदी के पानी ने मंदिर को घेर लिया. मंदिर के चारो ओर पानी भर जाने से जो लोग दीपक लगाने जाते थे, उन्होंने मंदिर जाना बंद कर दिया. लेकिन, मुझे तैरना आता था और मुझे भक्ति प्रिय है, इसलिए मैं आज भी दीपक जलाने जाता हूं. सती माता के प्रति उनकी आस्था और विश्वास अब उनकी दिनचर्या का हिस्सा बन चुका है.

Tags: Bhind news, Devotees, Hindu Temple, Mp news

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें