MP By-election: कमलनाथ बोले- हमारी सरकार वोट से बनी थी, शिवराज सरकार नोट से बनी है

कमलनाथ ने शिवराज सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि मैंने गौशालाएं खोलकर, किसानों का कर्ज माफ कर कौन सी गलती कर दी थी.
कमलनाथ ने शिवराज सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि मैंने गौशालाएं खोलकर, किसानों का कर्ज माफ कर कौन सी गलती कर दी थी.

कमलनाथ (Kamal Nath) ने कहा कि सौदे की सरकार का मुख्यमंत्री बनूं, ऐसा पाप करने को मैं तैयार नहीं था. यहां के नेता बिक सकते हैं, लेकिन वोटर नहीं बिक सकते.

  • Share this:
भिण्ड. पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamal Nath) और पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने भिण्ड के गोहद में चुनावी सभा को संबोधित किया. इस दौरान उन्होंने शिवराज सरकार पर जमकर हमला बोला. कमलनाथ ने विधायकों की खरीद फरोख्त के मुद्दे पर बीजेपी को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि चुनाव प्रजातंत्र का उत्सव होता है. लेकिन यह चुनाव उत्सव का नहीं, बिकाऊ का चुनाव है. अमेरिका में भी डॉ अंबेडकर का चित्र लगा होता है. उन्होंने कभी सोचा नहीं होगा कि कभी ऐसा भी समय आएगा जब भारत में बिकाऊ की राजनीति होगी. इन्होंने देश को कलंकित किया है.

पूर्व सीएम ने कहा कि हमारी सरकार 15 साल बाद वोट से बनी थी, लेकिन यह सरकार नोट से बनी है. प्रजातंत्र नहीं, लोकतंत्र नहीं, धनतंत्र की सरकार बनी है. 15 साल बाद 15 महीने के लिए कांग्रेस की सरकार आई. उसमें दो महीने चुनाव में चले गए.





'नेता बिक सकते हैं, लेकिन वोटर नहीं'
उन्होंने कहा कि किसान हत्या, बेरोजगारी, भ्रष्टाचार में नंबर वन प्रदेश भाजपा ने हमें सौंपा था. मैंने गौशालाओं को खोलकर, किसानों का कर्ज माफ कर कौन सी गलती की थी. सौदे की सरकार का मुख्यमंत्री बनूं, ऐसा पाप करने को मैं तैयार नहीं था. यहां के नेता बिक सकते हैं लेकिन वोटर नहीं बिक सकते. पुलिस-प्रशासन को चेतावनी देते हुए उन्होंने कहा कि 3 के बाद 4 तारीख भी आने वाली है. अब गुलामी का समय खत्म कर नया इतिहास लिखना है. सच्चाई का साथ देंगे, तभी भविष्य सुरक्षित रहेगा.

सभा में पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने गोहद के पूर्व विधायक रणवीर जाटव पर हमला बोला. वहीं डॉक्टर गोविंद सिंह ने कहा कि हिंदुस्तान के इतिहास में ऐसा कभी नहीं हुआ. प्रजातंत्र में अगर ऐसी घटना होगी, तो वोट का कोई महत्व नहीं रह जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज