• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • भिंड जेल हादसा: ग्वालियर सेंट्रल जेल में शिफ्ट हुए 234 कैदी, कलेक्टर ने दिए जांच के आदेश

भिंड जेल हादसा: ग्वालियर सेंट्रल जेल में शिफ्ट हुए 234 कैदी, कलेक्टर ने दिए जांच के आदेश

मध्य प्रदेश के भिंड जिले में 150 साल पुरानी जेल की दीवार गिर पड़ी.

Madhya Pradesh News: भिंड जिले की जेल की दीवारें गिरने के बाद कैदियों को ग्वालियर जेल शिफ्ट कर दिया गया है. इस मामले में कलेक्टर ने जांच के आदेश दे दिए हैं. हादसे में 21 कैदी घायल हो गए थे. उनमें से 1 की हालत गंभीर है. इस घटना के बाद जिले में हड़कंप मच गया था.

  • Share this:

भिंड. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh News) के भिंड जिले की जेल में शनिवार सुबह हादसा होने के बाद वहां कैद 234 बंदियों को ग्वालियर सेंट्रल जेल शिफ्ट कर दिया गया है. हादसे में 21 कैदी घायल हो गए थे. इनमें 2 की हालत गंभीर है. गंभीर रूप से घायल कैदियों को ग्वालियर रेफर किया गया था. भिंड कलेक्टर सतीश कुमार ने घटना की जांच के आदेश दिए हैं.

गौरतलब है कि भिंड स्थित 150 साल पुरानी जेल की दीवारें सुबह 5:10 पर भरभरा कर गिर पड़ीं. घटना की जानकारी मिलते ही कलेक्टर सहित सभी संबंधित अधिकारी मौके पर पहुंच गए.जेलर ओपी पांडेय ने बताया कि सुबह 5:10 पर एक सिपाही ने देखा कि बैरक नंबर 7 का प्लास्टर गिर रहा है. उसने तुरंत वरिष्ठ अधिकारियों को इसकी जानकारी दी और बाकी सिपाहियों को इकट्ठा किया. जैसे ही बैरक खोलना शुरू किया तो बैरक नंबर 7 पूरी तरह गिर गया. इसके बाद बैरक नंबर 2 की दीवारें भी गिर गईं. दीवारें गिरने से करीब 21 कैदी उसके नीचे दब गए. जैसे-तैसे सभी सिपाहियों को बैरक नंबर 8 में शिफ्ट किया गया. हादसे के वक्त बैरक नंबर 7 में 64 कैदी थे.

PWD विभाग को 4 दिन पहले लिखा था पत्र

जेलर ने बताया कि कुछ दिनों से जेल में पानी टपक रहा था. चार दिन पहले PWD विभाग को इसकी मरम्मत के लिए पत्र भी लिखा था. लेकिन, इस पर कोई कार्रवाई नहीं हुई. एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि जेल में इस तरह की पहले भी मरम्मत हो चुकी है. जेलर ने किसी कैजुअलटी से साफ इनकार कर दिया. जानकारी के मुताबिक, इस जेल की जगह नई जेल का प्रस्ताव किया गया था. साल 2008 से नई जेल बन रही है. इसे 2018 तक तैयार हो जाना था, लेकिन अभी तक नहीं हुई.

भिंड की इस अजीबोगरीब खबर पर भी डालें नजर

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh News) के भिंड जिले में लुटेरी दुल्हन का मामला सामने आया है. 15 साल के बच्चे की मां 5 हजार के लिए दिव्यांग से नकली शादी करने को तैयार हो गई. जबकि, पूरी शादी के नाम पर 90 हजार ठगे गए. शादी में वरमाला, आशीर्वाद जैसी सभी रस्मे हुईं. महिला शादी वाली रात दुल्हन के जोड़े में ही साथियों के साथ भागने की फिराक में थी. लेकिन, गश्त कर रहे पुलिस के जवानों ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया. पुलिस के मुताबिक, गोरमी थाना क्षेत्र के कचनाव रोड पर रहने वाला सोनू जैन एक पैर से विकलांग है.

विकलांगता के कारण सोनू की शादी नहीं हो पा रही थी. सोनू शादी के लिए कई लोगों से संपर्क कर चुका था. इस दौरान उसकी मुलाकात ग्वालियर के समाधिया कॉलोनी में रहने वाले उदल खटीक से हुई. ऊदल ने शादी में एक लाख रुपए खर्च होने की बात कही और उसकी मुलाकात एक महिला से कराई. इसके बाद दोनों की शादी हो गई और रात में ही महिला ने ये कांड कर दिया.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज