Home /News /madhya-pradesh /

रिपोर्टः मप्र में 1.40 लाख बच्चे 5 साल भी नहीं जी पाए अपनी जिंदगी

रिपोर्टः मप्र में 1.40 लाख बच्चे 5 साल भी नहीं जी पाए अपनी जिंदगी

यूनिसेफ की एक रिपोर्ट के अनुसार प्रदेश में 1.40 लाख बच्चों की मौत 5 वर्ष के अदंर ही हो चुकी है। प्रदेश के लिए यह एक चिंता का विषय है। इस रिपोर्ट के अनुसार कुछ इसी प्रकार का मिलता जुलता आंकड़ा उत्तर प्रदेश, बिहार और राजस्थान का भी है।

यूनिसेफ की एक रिपोर्ट के अनुसार प्रदेश में 1.40 लाख बच्चों की मौत 5 वर्ष के अदंर ही हो चुकी है। प्रदेश के लिए यह एक चिंता का विषय है। इस रिपोर्ट के अनुसार कुछ इसी प्रकार का मिलता जुलता आंकड़ा उत्तर प्रदेश, बिहार और राजस्थान का भी है।

यूनिसेफ की एक रिपोर्ट के अनुसार प्रदेश में 1.40 लाख बच्चों की मौत 5 वर्ष के अदंर ही हो चुकी है। प्रदेश के लिए यह एक चिंता का विषय है। इस रिपोर्ट के अनुसार कुछ इसी प्रकार का मिलता जुलता आंकड़ा उत्तर प्रदेश, बिहार और राजस्थान का भी है।

अधिक पढ़ें ...
  • News18
  • Last Updated :
    यूनिसेफ की एक रिपोर्ट के अनुसार प्रदेश में 1.40 लाख बच्चों की मौत 5 वर्ष के अदंर ही हो चुकी है। प्रदेश के लिए यह एक चिंता का विषय है। इस रिपोर्ट के अनुसार कुछ इसी प्रकार का मिलता जुलता आंकड़ा उत्तर प्रदेश, बिहार और राजस्थान का भी है।

    1.89 मिलियन बच्चे हर साल जन्म लेते हैं और जिनमें से 1,40,870 बच्चे अपनी जिंदगी के पांच साल भी पूरा नहीं कर पाते। 73937 बच्चों की जन्म के एक महीने से पहले और 106167 बच्चों की जन्म के एक साल के पहले ही मौत हो जाती है।

    देश में पांच वर्षों के अंदर जितने बच्चों की मौत होती है, उसका आधा हिस्सा यूपी, मप्र, बिहार और राजस्थान राज्य से है। 5 साल के अंदर बच्चों की मौत में सबसे ऊपर यूपी है, जहां 3,71,860 बच्चों, दूसरे स्थान पर बिहार में 3,71,860 बच्चों, तीसरे स्थान पर मध्य प्रदेश में 1,40, 970 बच्चों और चौथे स्थान पर राजस्थान में 1,04,860 बच्चों की मौत अब तक हुईृ है।

    वहीं, राष्ट्रीय स्तर पर कुल 13,59,289 बच्चों की मौत विभिन्न बीमारियों से पांच के अंदर हुई है। वहीं, प्रवीर कृष्णा, प्रमुख सचिव (स्वास्थ्य) के अनुसार अब प्रदेश में रजिस्टर्ड 82% नवजात बच्चों का अच्छे से ख्याल रखा जा रहा है।

    उन्होंने कहा कि टीकाकरण सिर्फ राज्य सरकार की जिम्मेदारी नहीं है बल्कि इसके लिए बच्चों के माता-पिता को भी चाहिए की वो अपने बच्चे को समय-समय पर टीका लगवाते रहें।

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर