Home /News /madhya-pradesh /

Indian Railways: भोपाल-इटारसी के बीच 1000 करोड़ में बिछेगी तीसरी लाइन, बनेंगे 67 ब्रिज

Indian Railways: भोपाल-इटारसी के बीच 1000 करोड़ में बिछेगी तीसरी लाइन, बनेंगे 67 ब्रिज

भोपाल-इटारसी ट्रैक पर तीसरी लाइन बिछाने का काम तेजी से चल रहा है. (File)

भोपाल-इटारसी ट्रैक पर तीसरी लाइन बिछाने का काम तेजी से चल रहा है. (File)

Indian railways project: भारतीय रेलवे के सबसे व्यस्त रेल खंड पर काम ने तेजी पकड़ ली है. ये प्रोजेक्ट भोपाल-इटारसी मार्ग पर चल रहा है. यहां तीसरी लाइन बिछाई जा रही है. रेलवे की इस तीसरी लाइन पर 67 ब्रिजों का निर्माण होना है. यहां 13 बड़े और 54 छोटे ब्रिज बनाए जाएंगे. ये प्रोजेक्ट 1000 करोड़ का है. इसे जुलाई 2022 तक पूरा कर लिया जाएगा.वर्तमान में इस खंड पर रोज 34 मालगाड़ियों के साथ 80 से अधिक जोड़ी एक्सप्रेस ट्रेनें चल रही हैं.

अधिक पढ़ें ...

भोपाल. भारतीय रेलवे के सबसे व्यस्त भोपाल-इटारसी मार्ग पर तीसरी लाइन का काम तेज कर दिया गया है. इस रूट से रेलवे को गति मिलेगी. रेलवे इस तीसरी लाइन पर 67 ब्रिजों का निर्माण कर रहा है. नई तकनीक और हैवी मशीनरी से यहां 13 बड़े और 54 छोटे ब्रिज बनाए जा रहे हैं. रेलवे के इस प्रोजेक्ट की लागत करीब 1000 करोड़ रुपये है. इस निर्माण को जुलाई 2022 तक पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है.

गौरतलब है कि भोपाल-इटारसी मार्ग भारतीय रेलवे का एक महत्वपूर्ण रेल खण्ड है. वर्तमान में इस खंड पर रोज 34 मालगाड़ियों के साथ 80 से अधिक जोड़ी एक्सप्रेस ट्रेनें चल रही हैं. इस प्रकार इस रेलखण्डों कि उपयोगिता 117% है. भोपाल-इटारसी तीसरी लाइन परियोजना के अंतर्गत जो 67 पुल बनेंगे, वे बरखेड़ा-बुदनी घाट रेलखण्ड के बीच बनेंगे. इस सेक्शन में पुलों का निर्माण कार्य रेल विकास निगम लिमिटेड (आरवीएनएल) द्वारा किया जा रहा है. इसके द्वारा तीसरी लाइन बरखेड़ा से बुदनी के बीच 26.6 किमी के ट्रैक पर बिछाई जा रही है.

इस आकार के बनेंगे 13 बड़े ब्रिज

10 ब्रिज 1 स्पान के (18.3 मीटर, 12.2 मीटर, 30.5 मीटर)-1 ब्रिज 2 स्पान का (18.3 मीटर × 2)-1 ब्रिज 3 स्पान का (18.3 मीटर × 3)- 1 ब्रिज 4 स्पान का (1×18.3 मीटर 30.5 मीटर × 3). इस परियोजना में ब्रिजों एवं उसके फॉर्मेशन के निर्माण की लागत 720 करोड़ रुपये है. कोविड की चुनौतियों के बावजूद कार्य को रफ्तार से किया जा रहा है.

रानी कमलापति रेलवे स्टेशन से कनेक्ट होगी Bhopal Metro

रानी कमलापति रेलवे स्टेशन के उद्घाटन के साथ ही अब भोपाल और इंदौर मेट्रो प्रोजेक्ट ने रफ्तार पकड़नी शुरू कर दी है. भोपाल मेट्रो को सीधे वर्ल्ड क्लास रानी कमलापति रेलवे स्टेशन से कनेक्ट किया जाएगा. स्टेशन से ही सीधे मेट्रो की सुविधा आम जनता ले सकेगी. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान 26 नवंबर को इंदौर में मेट्रो कॉरिडोर के निर्माण का भूमि पूजन करेंगे. भोपाल में भी तेजी से पहले रूट का काम चल रहा है. 2018 में भोपाल और इंदौर में मेट्रो प्रोजेक्ट शुरू हुआ था. साल 2022 तक इस प्रोजेक्ट को पूरा करना था. लेकिन, अब इसे पूरा करने के लिए अगस्त 2023 तक का लक्ष्य रखा गया है. भोपाल मेट्रो प्रोजेक्ट की कुल लागत 6 हजार 941 करोड़ और इंदौर मेट्रो रेल प्रोजेक्ट की कुल लागत 7 हजार 580 करोड़ है.

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 15 नवंबर को रानी कमलापति रेलवे स्टेशन का उद्घाटन किया. ठीक उसके सामने से ही मेट्रो की लाइन निकली है. काम तेजी से किया जा रहा है. पिलर का काम लगभग पूरा हो चुका है. उसके ऊपर स्लैब लगने का काम चल रहा है. इस स्लैब से मेट्रो रेलवे स्टेशन से कनेक्ट हो जाएगी. इस तरह जो व्यक्ति रेल यात्रा करके भोपाल में किसी स्थान पर जाना चाहता है तो वह सीधे स्टेशन से ही मेट्रो पकड़ सकता है. मेट्रो का रूट अभी एम्स से ओल्ड सिटी के करोंद को कनेक्ट करता है. आगे चलकर यह कनेक्टिविटी दूसरे रूट पर भी बढ़ेगी. मेट्रो से व्यक्ति सीधे रेलवे स्टेशन पर पहुंचेगा. इससे यात्री को पहले से ज्यादा सुविधा मिलेगी और उसका समय भी बचेगा.

Tags: Bhopal news, Indian Railways, Irctc, Mp news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर