लाइव टीवी

MP: 2100 पुलिसकर्मी नहीं जा पाएंगे अपने घर, होटल, लॉज और गेस्ट हाउस में ही रुकना होगा
Bhopal News in Hindi

Manoj Rathore | News18 Madhya Pradesh
Updated: April 8, 2020, 11:36 AM IST
MP: 2100 पुलिसकर्मी नहीं जा पाएंगे अपने घर, होटल, लॉज और गेस्ट हाउस में ही रुकना होगा
महिला आरक्षक ने स्कूटी से 650 किलोमीटर का सफर तय किया. (सांकेतिक फोटो)

भोपाल (Bhopal) के कलेक्टर और डीआईजी भी फॉरेस्ट के गेस्ट हाउस में ही रुकेंगे.

  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में कोरोवा के खिलाफ जंग लड़ रहे पुलिसकर्मी (Policeman) भी अब इसके वायरस से सुरक्षित नहीं है. कहा जा रहा है कि जहांगीराबाद सीएसपी अलीम खान समेत 10 पुलिसकर्मी भी कोरोना वायरस (Corona virus) से संक्रमित हो गए हैं. साथ ही जमातियों के संपर्क में आने से पुलिस विभाग में भी कोरोना वायरस की एक लंबी चेन बन गई है. यही वजह है कि सरकार ने भोपाल के पुलिसकर्मियों को लेकर एक बड़ा फैसला लिया है. पुलिसकर्मी और अधिकारियों के घर जाने पर पाबंदी लगा दी गई है. अब भोपाल में 2100 पुलिसकर्मियों को होटल, लॉज और गेस्ट हाउस में भेजा गया है. ये लोग अब यहीं पर रुकेंगे.

वहीं, भोपाल के कलेक्टर और डीआईजी भी फॉरेस्ट के गेस्ट हाउस में ही रुकेंगे. जानकारी के मुताबिक, कलेक्टर तरुण पिथोड़े और डीआईजी इरशाद वली ने जांच के लिए अपने सैंपल दिए है.

बता दें कि कोरोना संकट के बीच मध्य प्रदेश सरकार ने मंगलवार रात को बड़ा प्रशासनिक फेरबदल कर डाला. यह फेरबदल स्वास्‍थ्य विभाग से संबंधित‌ रहा और इस दौरान कोरोना की चपेट में आए दो आईएएस अधिकारियों को बदल दिया गया. इसमें स्वास्थ्य विभाग की प्रमुख सचिव पल्लवी जैन गोविल की जगह मोहम्मद सुलेमान को एसीएस स्वास्थ्य बनाया गया है. वहीं स्वास्थ्य संचालक (प्रशासन) विजय कुमार की जगह सुदाम खाड़े को संचालक स्वास्थ्य की जिम्मेदारी दी गई है.



देर रात जारी हुए आदेश



मध्य प्रदेश में कोरोना से निपटने की चुनौती के बीच बड़ी संख्या में सीनियर आईएएस, स्वास्थ्य और पुलिस अफसरों के इस बीमारी के चपेट में आने से नई समस्या खड़ी हो गई है. कोरोना की चपेट में आए स्वास्थ्य विभाग को इससे उबारने के लिए शिवराज ने अपने पसंदीदा अफसरों को कमान सौंप दी है. मोहम्मद सुलेमान को उन्होंने एसीएस हेल्थ नियुक्त किया है. देर रात आदेश जारी कर दिए गए हैं.

अपने चहेतों को जिम्मेदारी!
स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों के कोरोना वायरस की चपेट में आने से विभाग खुद सवालों के घेरे में है. स्वास्थ्य विभाग की सेहत सुधारने के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने पसंदीदा अफसर पर दांव खेला है. उन्होंने स्वास्थ्य विभाग में अपर मुख्य सचिव पद पर मोहम्मद सुलेमान को नियुक्त किया है. सुलेमान अपने मौजूदा विभाग ऊर्जा के साथ स्वास्थ्य विभाग की जिम्मेदारी भी संभालेंगे. इसके अलावा शिवराज सरकार में भोपाल कलेक्टर का जिम्मा संभालने वाले सुदाम खाडे को फिर से अहम जिम्मेदारी सौंपी गई है. उन्हें स्वास्थ्य विभाग में संचालक नियुक्त किया गया है. शिवराज की कोशिश इन दोनों अफसरों के जरिए स्वास्थ्य विभाग और प्रदेश की हालत सुधारने की है.

ये भी पढ़ें- 

COVID-19: कोरोना से लड़ने के लिए पूरी तरह तैयार है केजरीवाल सरकार!

दिल्ली के छात्रों ने बनाया रोबोट, कोरोना पीड़ित मरीजों को दे सकता है दवाइयां

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 8, 2020, 9:26 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading