भोपाल में 3 दिन के मासूम और 84 साल की बुज़ुर्ग महिला ने दी कोरोना को मात
Bhopal News in Hindi

भोपाल में 3 दिन के मासूम और 84 साल की बुज़ुर्ग महिला ने दी कोरोना को मात
भारत और पाकिस्तान दोनों ही कोरोना वायरस के एक्टिव केस के मामले में टॉप-10 में हैं. (सांकेतिक तस्वीर)

कलेक्टर (collector) तरुण पिथौड़े ने अपील की है कि बुजुर्ग,बच्चों, बीमार लोगों और गर्भवती महिलाओं (Pregnant women) का खास ख्याल रखा जाए.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
भोपाल.भोपाल में कोरोना (corona) से जंग जीतने का सिलसिला जारी है. इन कोरोना वॉरियर्स (Corona warriors) में 3 दिन के मासूम से लेकर 84 साल की बुज़ुर्ग महिला तक शामिल हैं.भोपाल में इलाज के बाद डिस्चार्ज हुए मरीज़ खुश होकर अपने घर लौटे. सबने यही कहा बीमारी कोई भी हो, बस हिम्मत नहीं टूटना चाहिए. इस बीच कलेक्टर (collector) ने अपील की है कि नियमों का पालन करें. बुजुर्गों-बच्चों, मरीज़ों और गर्भवती महिलाओं का खास ख्याल रखें.

भोपाल में 3 दिन के मासूम ने कोरोना को हरा दिया.इसके साथ कोरोना को मात देने वालों में 84 साल की बुजुर्ग महिला भी शामिल हैं.इन्हें मिलाकर अब तक भोपाल में 870 लोग कोरोना संक्रमण से पूरी तरह ठीक हो चुके हैं और भोपाल का रिकवरी रेट बढ़कर 63 प्रतिशत हो गया है. जो लोग अभी तक कोरोना से स्वस्थ हुए हैं उन्होंने बताया की जब वह कोरोना पॉजिटिव पाए गए तब वह और उनका परिवार बहुत घबराया था लेकिन जैसे ही उन्हें अस्पताल लाया गया डॉक्टर, नर्स और सभी स्टाफ के व्यवहार से उनका डर दूर हो गया. बेहतर इलाज से वह कोरोना को हराकर इस जंग को जीत पाए.

7 दिन होम क्वारेंटीन
अस्पताल से डिस्चार्ज हुए सभी लोगों को सात दिन के लिए होम क्वॉरेंटीन किया गया है. इस दौरान उन्हें घर पर ही आइसोलेट रहने,अच्छे खान पान और इम्यूनिटी बढ़ाने वाला खाना खाने की सलाह दी गयी है. शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाकर ना सिर्फ वह कोरोना को हरा सकते हैं बल्कि अपने जीवन को और अधिक जीवंत और बेहतर बना सकते हैं.



कलेक्टर की अपील


भोपाल का रिकवरी रेट 63 प्रतिशत हो गया है. अब तक भोपाल में संक्रमित पाए गए कुल 1373 व्यक्तियों में से 870 व्यक्ति पूर्णत: स्वस्थ होकर अपने घर जा चुके हैं. कलेक्टर तरुण पिथौड़े ने अपील की है कि बुजुर्ग,बच्चों, बीमार लोगों और गर्भवती महिलाओं का खास ख्याल रखा जाए. किसी को भी सर्दी, खासी, जुकाम, गले में दर्द जैसे लक्षण होने पर तुरंत अस्पताल या फीवर क्लीनिक में ले जा कर जांच कराएं.

ये भी पढ़ें-

कमलनाथ के दावे पर बोले शिवराज- दिल बहलाने के लिए ये ख्याल अच्छा है

नौतपा में तेज़ आंधी के साथ हुई बारिश ने मचाई तबाही,होर्डिंग गिरने से 1 की मौत
First published: May 29, 2020, 7:44 AM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading