Home /News /madhya-pradesh /

MP के 4 शहरों में 3 मई के बाद भी बढ़ सकता है LOCKDOWN, मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने दिए संकेत

MP के 4 शहरों में 3 मई के बाद भी बढ़ सकता है LOCKDOWN, मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने दिए संकेत

MP के 4 शहरों में 3 मई के बाद भी बढ़ सकता है LOCKDOWN

MP के 4 शहरों में 3 मई के बाद भी बढ़ सकता है LOCKDOWN

मेडिकल टीचर्स एसोसिएशन ने भी सरकार को इस बात का भरोसा दिलाया कि प्रदेश के सभी प्राइवेट मेडिकल कॉलेज में मरीजों का पूरी तरह से इलाज कराया जाएगा. गर्भवती महिलाओं को भी इलाज मुहैया कराया जाएगा.

भोपाल. मध्य प्रदेश (madhya pradesh) में लॉकडाउन (lockdown) 3 मई के बाद भी बढ़ाया जा सकता है. प्रदेश के गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री नरोत्तम मिश्रा (narottam)  ने इस बात के संकेत दिए हैं कि 3 मई के बाद भोपाल, इंदौर, उज्जैन और खरगोन जिले में लॉकडाउन बढ़ाया जा सकता है. हालांकि इस पर फैसला 30 अप्रैल के बाद किया जाएगा. ये चारों प्रदेश के कोरोना से सबसे ज़्यादा संक्रमित ज़िले हैं.

स्वास्थ्य मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा है कि इंदौर अभी सबसे ज्यादा संवेदनशील जिला है. और वहां पर कोरोना संक्रमित की संख्या में एक जंप अभी और आ सकता है, यानी इंदौर में कोरोना संक्रमण का आंकड़ा और बढ़ने की आशंका है. स्वास्थ्य मंत्री के मुताबिक भोपाल इंदौर और उज्जैन में संक्रमण रोकने के लिए तेजी के साथ कदम उठाए जा रहे हैं. स्वास्थ्य मंत्री ने आज प्रदेश के निजी अस्पतालों से जुड़े संगठनों मेडिकल टीचर्स एसोसिएशन और इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के प्रतिनिधियों के साथ कोरोना के संबंध में चर्चा की.सभी ने कोरोना के खिलाफ फाइट में सरकार को पूरा सहयोग देने का वादा किया

सुरक्षा कवच की मांग
निजी अस्पतालों ने 24 घंटे सेवाएं देने का भरोसा सरकार को दिलाया है. निजी नर्सिंग होम एसोसिएशन के प्रतिनिधियों ने कहा है अस्पताल में तत्परता से सेवाओं को जारी रखा जाएगा. हालांकि एसोसिएशन ने सरकार से इस बात की मांग की है कि यदि उनके स्टाफ को कोरोना का संक्रमण होता है तो ऐसे में उसके लिए 50 लाख तक का बीमा कवर, जरूरी मास्क और दवाइयों का इंतजाम सरकार कराए. ताकि अस्पतालों में मरीजों का इलाज हो सके और स्टाफ को भी सुरक्षा कवच मिल सके.

मेडिकल टीचर्स भी साथ आए
मेडिकल टीचर्स एसोसिएशन ने भी सरकार को इस बात का भरोसा दिलाया कि प्रदेश के सभी प्राइवेट मेडिकल कॉलेज में मरीजों का पूरी तरह से इलाज कराया जाएगा. गर्भवती महिलाओं को भी इलाज मुहैया कराया जाएगा. हालांकि एसोसिएशन का कहना है कि लोग जरूरी इलाज के लिए ही घर से बाहर निकलें. ज़रूरत पड़ने पर अस्पतालों के फोन नंबर पर कॉल कर जरूरी स्वास्थ सेवाओं की जानकारी ले सकते हैं.

ये भी पढ़ें-

Lockdown में प्रशासन का कूल फंडा: मटकों की घर-घर डिलिवरी, फोन पर दीजिए ऑर्डर

6 साल की बच्‍ची का अपहरण कर रेप, CM शिवराज ने कहा- दरिंदे को होगी सजा

Tags: CM Shivraj Singh Chouhan, Corona epidemic, Lockdown violation, Lockdown. Covid 19

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर