• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • छतरपुर कलेक्टर को हटाने के लिए इन विधायकों ने सीएम को लिखी चिट्ठी, इस बात से हैं नाराज़

छतरपुर कलेक्टर को हटाने के लिए इन विधायकों ने सीएम को लिखी चिट्ठी, इस बात से हैं नाराज़

सत्ता के गलियारों में चर्चा का विषय बनी हुई है ये चिट्ठी

सत्ता के गलियारों में चर्चा का विषय बनी हुई है ये चिट्ठी

प्रदेश के 5 विधायकों (MLA) ने सीएम कमलनाथ (CM Kamalnath) को चिट्ठी लिखकर छतरपुर कलेक्टर (Chhatarpur Collector) को हटाने की मांग की है. मंत्री पीसी शर्मा ने भी कहा कि अफसरों को जनप्रतिनिधियों का सम्मान करना ही होगा.

  • Share this:
भोपाल. प्रदेश के मंत्रियों को दिग्विजय सिंह (Digvijay singh) की चिट्ठी के बाद सत्ता के गलियारों में एक और चिट्ठी चर्चा में है. सीएम कमलनाथ को ये चिट्ठी प्रदेश के 5 विधायकों ने लिखी है. इन विधायकों ने छतरपुर कलेक्टर (Chhatarpur Collector) को हटाने की मांग की है. जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा (Minister PC Sharma) ने बताया कि इस मामले पर मुख्यमंत्री कमलनाथ और मुख्य सचिव फैसला करेंगे. कलेक्टर के व्यवहार पर नाराज़गी जाहिर करते हुए मंत्री पीसी शर्मा ने कहा है कि कोई भी कितना बड़ा अधिकारी हो लेकिन उसे जनप्रतिनिधियों का सम्मान करना ही होगा.

कलेक्टर से नाराज़ विधायक
छतरपुर कलेक्टर मोहित बुंदस से चंदला से बीजेपी विधायक राजेश प्रजापति, कांग्रेस विधायक विक्रम सिंह नातीराजा, आलोक चतुर्वेदी, प्रद्युमन सिंह लोधी, नीरज दीक्षित और एसपी विधायक राजेश शुक्ला नाराजगी जाहिर कर चुके हैं. इन विधायकों ने कलेक्टर को हटाने के लिए सीएम कमलनाथ को चिट्ठी भी लिखी है.

news - मंत्री पीसी शर्मा ने कहा कि इस मामले परसीएम कमलनाथ और सीएस करेंगे फैसला
मंत्री पीसी शर्मा ने कहा कि इस मामले पर सीएम कमलनाथ और सीएस करेंगे फैसला


ये हैं नाराज़गी की वजह
चंदला से बीजेपी विधायक राजेश प्रजापति ने आरोप लगाया है कि सोमवार शाम वो कलेक्टर मोहित बुंदस से मिलने कलेक्टोरेट पहुंचे थे, लेकिन कलेक्टर से मिलने के लिए वो कक्ष के बाहर एक घंटे तक खड़े रहे. इससे पहले कांग्रेसे और एसपी विधायक भी कलेक्टर पर बात न सुनने के आरोप लगा चुके हैं.

सीएम कमलनाथ और सीएस करेंगे फैसला
जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा ने कहा है कि कोई भी कितना बड़ा अधिकारी हो उसे जनप्रतिनिधियों की बात सुननी ही होगी. छतरपुर कलेक्टर की विधायकों द्वारा की गई शिकायत पर उन्होंने कहा कि सीएम कमलनाथ और सीएस इस मामले को देखेंगे. लेकिन उन्होंने साफ कर दिया कि अधिकारियों को विधायकों को मिलने का वक्त देना होगा और उनकी समस्याओं का समाधान करना होगा.

ये भी पढ़ें -
दुनिया की दो सुपर पावर की 'वॉर' से गई 30 लाख नौकरियां, हुआ लाखों करोड़ का नुकसान!
ट्रेन में शराब पार्टी से परेशान हुए लोकसभा स्पीकर ओम बिरला, 5 हुड़दंगियों को भिजवाया जेल

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज