• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • भोपाल: राजभवन में बढ़ता corona का जाल, 6 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव

भोपाल: राजभवन में बढ़ता corona का जाल, 6 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव

बद्दी में कोरोना के तीन नए मामले. (फाइल फोटो)

बद्दी में कोरोना के तीन नए मामले. (फाइल फोटो)

बताया जा रहा है कि बुधवार को मिले पॉजिटिव मामलों में एक कर्मचारी राज्यपाल के निजी स्टाफ में सेवा दे रहा था. ये दूसरा मौका है जब राजभवन (Raj bhavan) के स्टाफ को क्वारेंटाइन किया जाएगा.

  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के सबसे सेफ प्लेस कहे जाने वाले राजभवन (Raj bhavan) में भी कोरोना (Corona) की एंट्री हो चुकी है. भोपाल में मिले मरीजों में आधा दर्जन मरीज राजभवन में मिले हैं. यहां सोमवार को एक 28 वर्षीय युवक के पॉजिटिव मिलने के बाद तीन दर्जन कर्मचारियों और उनके परिजनों की सेंपल टेस्टिंग कराई गई. जिनमें से 6 लोग पॉजिटिव मिले हैं.

यह है राजभवन के कोरोना संक्रमित
कोरोना संक्रमितों में मोटर मैकेनिक और उसकी पत्नी के अलावा राज्यपाल के निजी स्टाफ में पदस्थ चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी के परिवार में चार लोग पॉजीटिव मिले हैं. अब यहां कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 7 हो चुकी है. बताया जा रहा है कि बुधवार को मिले पॉजिटिव मामलों में एक कर्मचारी राज्यपाल के निजी स्टाफ में सेवा दे रहा था. ये दूसरा मौका है जब राजभवन के स्टाफ को क्वारेंटाइन किया जाएगा. आधा दर्जन लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद राजभवन के सचिवालय में अफसरों ने बैठक कर बाकी स्टाफ की सेंपलिंग कराने पर चर्चा की. इसके अलावा नॉर्थ टीटी नगर में दो, बैरागढ़ के आदर्शनगर में 3 श्रृद्धानगर में 2,अशोका गार्डन और बैरागढ़ कलां में पॉजिटिव मिले हैं.

सीएम समेत कई नेता संदिग्ध के घेरे में
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सहित कई नेता हाल ही में राज्यपाल लालजी टंडन से मुलाकात करने पंहुचे थे. बताया जा रहा है कि हफ्ते भर के भीतर मंत्रिमंडल विस्तार समेत अन्य मुद्दों को लेकर लगातार नेताओं के मिलने का दौर जारी है. ऐसे में सीएम शिवराज समेत राजभवन पहुंचे तमाम नेता भी संदिग्ध के घेरे में आते हैं. हालांकि राजभवन में आने वाले लोगों को मास्क के साथ ही शूज कवर पहनाकर सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल रखा जा रहा है.

राजभवन बना कंटेंनमेंट एरिया
राजभवन परिसर में रहने वाले 7 लोगों कोरोना से संक्रमित होने के बाद ये इलाका कंटेनमेंट एरिया में आ गया है. केंद्र सरकार की कोरोना गाइड लाइन के अनुसार मरीज मिलने पर तीन किलोमीटर तक का इलाका कंटेनमेंट घोषित किया जाता है. इस क्षेत्र में रहने वाले किसी भी व्यक्ति को न तो बाहर जाने की इजाजत होती है और न ही यहां कोई बाहरी व्यक्ति आ सकता है. ऐसे में राजभवन के कैंपस में रहवासी क्वार्टर को कंटेनमेंट घोषित कर दिया गया है.

ये भी पढ़ें: भोपाल: ब्रिटिश नागरिक सोहेल को लेकर पुलिस का बड़ा खुलासा, घूमने नहीं, धर्म प्रचार करने आया था भारत

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज