Salute Bhopal: कोरोना पेशेंट्स की जान बचाने के लिए भोपाल में 85 लोग दान करेंगे प्लाज्मा

bhopal.सिंधी कम्युनिटी हॉल ईदगाह हिल्स में  निशुल्क एंटीबाडी टेस्ट के शिविर लगाया गया था.

bhopal.सिंधी कम्युनिटी हॉल ईदगाह हिल्स में निशुल्क एंटीबाडी टेस्ट के शिविर लगाया गया था.

Bhopal News: कोरोना संक्रमित होने के 1 से 3 महीने बाद बॉडी ऐसी एंटीबॉडीज प्रोड्यूस करती है, जो भविष्य में उसे इंफेक्शन से बचाने का काम करती है. इस लिहाज से कोरोना पॊजिटिव रहे लोगों को प्लाज्मा कई संक्रमितों की जिंदगी बचा सकता है.

  • Share this:

भोपाल. इस कोरोना काल में मरीजों की जान बचाने के लिए भोपाल के लोग अब आगे आए हैं. शहर में 124 लोगों ने एंटीबाडी की जांच करवाई है, जिसमें से 85 लोग अपना प्लाज्मा कोरोना पेशेंट्स को डोनेट करेंगे.

यहां एक अभियान चलाकर प्लाज्मा डोनेट (Plasma Donation) किया जा रहा है. हमीदिया अस्पताल ब्लड बैंक की मदद से कैंप लगाकर सबसे पहले लोगों की एंटीबॉडी की जांच की जा रही है. इस एंटीबॉडी के दौरान लोग अपनी सुरक्षा से प्लाज्मा डोनेट करने के लिए आगे आए हैं. प्लाज्मा से अब कोरोना के गंभीर मरीजों की जिंदगी बचाई जा सकेगी.

कैंप लगाकर जांच

राजधानी भोपाल में निशुल्क एंटीबॉडी टेस्ट का शिविर लगाया गया. यह शिविर बीजेपी के गुरु नानक मंडल के अध्यक्ष राकेश कुकरेजा ने हमीदिया अस्पताल ब्लड बैंक के डॉक्टर और उनके स्टाफ की सहायता से लगाया. इस शिविर में पूज्य सिंधी पंचायत गुरु नानक टेकरी ने भी मदद की.
124 लोगों की एंटीबाडी जांच

इस शिविर में कुल 124 लोगों ने एंटी बॉडी की जांच करवाई. उनमें से कुल 85 लोग अपना प्लाज्मा डोनेट करने के लिए तैयार हो गए हैं. प्लाज्मा डोनेट के लिए भी अलग से शिविर लगाया जाएगा. यह प्लाज्मा बैंक को दिया जा रहा है, ताकि वहां से गंभीर मरीजों को तत्काल मदद मिल सके. इस दौरान युवाओं में बहुत उत्साह देखने को मिला. लोगों ने कहा इस संकट की घड़ी में मदद सबको करना चाहिए. प्लाज्मा डोनेट करना चाहिए, ताकि लोगों की जिंदगी को बचाया जा सके.




क्या है एंटीबॉडी जांच...

हमीदिया अस्पताल ब्लड बैंक से आए डॉक्टर ने बताया कि यह एक साधारण खून की जांच है. इसमे हमें पता चलता है कि कोरोना होने के 1 से 3 महीने बाद कोरोना के इंफेक्शन से लड़ाई के बाद बॉडी ऐसी एंटीबॉडीज प्रोड्यूस करती है जो भविष्य में उसे इंफेक्शन से बचाने का काम करती है. शरीर में एंटीबॉडी का लेवल पता लगने के बाद न सिर्फ ये अंदाजा लगा सकते हैं कि इम्युनिटी आपका कितना बचाव कर रहा है. बल्कि ये प्लाज़्मा डोनेट करने में भी मददगार हो सकता है. कोरोना होने के पश्चात एंटीबाडी ब्लड टेस्ट(Antibodies Blood Test) करवाना अनिवार्य माना गया है.

लगाएंगे प्लाज्मा डोनेशन कैंप

गुरुनानक मंडल के अध्यक्ष राकेश कुकरेजा ने कहा कि हमने सिंधी कम्युनिटी हॉल ईदगाह हिल्स में निशुल्क एंटीबाडी टेस्ट के शिविर लगाया. इसमें लोगों ने आकर अपना एंटीबाडी का टेस्ट करवाया. 85 लोगों ने प्लाज़्मा डोनेट के लिए अपनी सहमति प्रदान की. अब 2 से 3 दिन में प्लाज़्मा डोनेशन कैम्प लगाकर इन लोगों से प्लाज्मा डोनेट करवाया जाएगा.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज