युवती के परिजन बोले- हम इस शादी को स्वीकार नहीं करते, बेटी से मिलवाओ, उसे लेकर जाएंगे

भोपाल में इलाहाबाद से आई एक युवती का लव मैरिज करना उसके परिजनों को रास नहीं आ रहा है. यूपी पुलिस के साथ आए युवती के परिजनों ने बीते शनिवार को युवक के घर पर जमकर हंगामा किया.

News18 Madhya Pradesh
Updated: July 14, 2019, 2:18 PM IST
युवती के परिजन बोले- हम इस शादी को स्वीकार नहीं करते, बेटी से मिलवाओ, उसे लेकर जाएंगे
युवती के परिजन बोले- 'हम इस शादी को स्वीकार नहीं करते, बेटी से मिलवाओ, उसे लेकर जाएंगे' (सांकेतिक तस्वीर)
News18 Madhya Pradesh
Updated: July 14, 2019, 2:18 PM IST
मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में इलाहाबाद से आई एक युवती का लव मैरिज करना उसके परिजनों को रास नहीं आ रहा है. यूपी पुलिस के साथ आए युवती के परिजनों ने बीते शनिवार को युवक के घर पर जमकर हंगामा किया. इससे युवक की मां की तबीयत बिगड़ गई. परिजन अपनी बेटी से मिलने को लेकर अड़े हैं, लेकिन युवक के पिता की मजबूरी यह है कि बेटा और बहू उनके पास नहीं हैं. बीते 5 जुलाई से उनसे कोई संपर्क नहीं हुआ है.

इस तरह बातचीत शादी तक पहुंची



भोपाल के ए सेक्टर राजहर्ष काॅलोनी निवासी बीके राजपूत मंडी बोर्ड में सर्विस करते हैं. उनका बेटा ऋतुराज सिंह राजपूत भुज (गुजरात) में एक प्राइवेट कंपनी में इंजीनियर है. राजपूत का कहना है कि 3 साल पहले ऋतुराज की पहचान इलाहाबाद निवासी दीक्षा अग्रवाल से थाणे (महाराष्ट्र) के एक आश्रम में हुई थी. इस दौरान दोनों के बीच बातचीत शुरू हुई और बात शादी तक पहुंच गई.

उन्होंने बताया कि ऋतुराज बीते 4 जुलाई को दीक्षा से मिलने इलाहाबाद गया था. जब वह 5 जुलाई को आया तो दीक्षा उसके साथ ही आ गई थी. इसके बाद दोनों ने भदभदा के पास एक रेस्तरां में शादी कर ली. फिर 6 जुलाई को नगर निगम में शादी का रजिस्ट्रेशन करा लिया था.

लव मैरिज, love marriage
दीक्षा और ऋतुराज की 5 जुलाई को हुई थी शादी (सांकेतिक तस्वीर)


दीक्षा ने वीडियो जारी कर कही ये बात, 5 जुलाई को हुई थी शादी

वहीं दीक्षा अग्रवाल ने एक वीडियो जारी कर कहा कि उसने ऋतुराज सिंह राजपूत से 5 जुलाई 2019 को पूरे होश हवास में अपनी मर्जी से शादी की है. उसने अपने दादा पूर्व उप महापौर मुरारीलाल अग्रवाल, पिता पवन अग्रवाल, बुआ और फूफा से निवेदन किया है कि वे उन्हें पुलिस प्रशासन और पॉलिटिकल पावर का यूज कर तंग करना बंद कर दें. वो अपने पति के साथ सुख चैन से जीना चाहती है. दीक्षा ने ये भी कहा कि "अगर हमारे साथ कुछ भी होता है तो उसके लिए पिता, बुआ और फूफा जिम्मेदार होंगे."
Loading...

लड़के की फैमिली को लगातार मिल रही धमकी

लड़के के पिता बीके राजपूत के मुताबिक 7 जुलाई को दीक्षा के दादा मुरारीलाल अग्रवाल, पिता पवन अग्रवाल, बुआ सीमा अग्रवाल, फूफा मनोज अग्रवाल कुछ लोगों के साथ उनके घर आए थे. उन सबने उन्हें और उनकी पत्नी के साथ दुर्व्यवहार किया था. लड़की के परिवार वालों का कहना था कि वे इस शादी को स्वीकार नहीं करेंगे, उन्हें उनकी बेटी चाहिए. जब उन्हें बेटी के घर में नहीं होने की बात कही तो वे मानने को तैयार नहीं हुए. बड़ी मुश्किल से उन्हें घर से भेजा गया. इसके बाद से धमकियों का सिलसिला जारी है.

धमकी-threatning
लड़के की फैमिली को लगातार मिल रही धमकी (सांकेतिक तस्वीर)


युवक की मां की तबीयत बिगड़ने वापस लौटा लड़की पक्ष 

लड़के के पिता के मुताबिक शनिवार दोपहर 3.15 बजे दीक्षा के परिजन यूपी पुलिस के साथ उनके घर पहुंचे थे. वे घर की तलाशी लेना चाहते थे. पत्नी की तबीयत बिगड़ती देख वे चले गए. पत्नी को पहले बंसल अस्पताल ले गए. यहां से उन्हें भोपाल मेमोरियल शिफ्ट किया गया है.

ये भी पढ़ें:- शादी के एक महीने बाद मायके लौटी युवती, प्रेमी ने मारी गोली 

ये भी पढ़ें:- विधायक के चचरे भाई ने ऑटो चालक को पीटा, चलाई गोलियां
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...