अपना शहर चुनें

States

सांसद प्रज्ञा ठाकुर को दिक्कत न हो इसलिए भोपाल कलेक्ट्रेट में लगेगी लिफ्ट, इतना आएगा खर्च

बीजेपी सांसद प्रज्ञा ठाकुर के रक्षा समिति में नामित होने पर कांग्रेस को आपत्ति
बीजेपी सांसद प्रज्ञा ठाकुर के रक्षा समिति में नामित होने पर कांग्रेस को आपत्ति

जिला प्रशासन ने फिलहाल सांसद की समस्या को देखते हुए बैठक की जगह बदल दी है. लेकिन आगे से प्रज्ञा ठाकुर को दिक्कत ना हो इसलिए कलेक्ट्रेट में लिफ्ट लगायी जाएगी. इस पर पच्चीस लाख रुपए खर्च होंगे.

  • Share this:
भोपाल. बीजेपी सांसद (BJP MP) प्रज्ञा सिंह ठाकुर (Pragya Singh Thakur) को जिला प्रशासन लिफ्ट की सुविधा मुहैया कराएगा. कलेक्ट्रेट में अब उनके लिए लिफ्ट (Lift) लगायी जाएगी, जिससे कि वो दफ्तर की ऊपरी मंजिल तक आसानी से पहुंच सकें. दरअसल कलेक्ट्रेट में लिफ्ट नहीं हैं ऐसे में सेहत नासाज होने के कारण प्रज्ञा ठाकुर सीढ़ियां नहीं चढ़ पातीं. भोपाल कलेक्ट्रेट में पहली मंजिल पर सरकारी मीटिंग होती है. इसमें अफसर से लेकर सांसद और विधायक तक सब शामिल होते हैं. लेकिन भोपाल से लोकसभा सांसद प्रज्ञा ठाकुर के सामने एक बड़ी समस्या है. उनकी सेहत ठीक नहीं होने के कारण वो ऊपरी माले तक नहीं पहुंच पातीं. सीढ़ियां चढ़ने में उन्हें दिक्कत है. कलेक्ट्रेट में लिफ्ट नहीं है इसलिए उसने सामने ऊपर तक पहुंचने की समस्या खड़ी हो जाती है.

लौट गयी थीं प्रज्ञा ठाकुर
सांसद प्रज्ञा ठाकुर इस वजह से अब तक किसी बैठक में शामिल नहीं हो पायीं हैं. इससे पहले बुलाई गई जिला योजना समिति की बैठक में शामिल होने वो कलेक्ट्रेट पहुंचीं थीं लेकिन इमारत में लिफ्ट ना होने के कारण वो दफ्तर के नीचे से ही वापस लौट गई थीं. इस बार जिला योजना समिति की बैठक सात नवंबर को है. इसमें भोपाल के मास्टर प्लान को लेकर चर्चा होनी है. बैठक में जिला योजना समिति के सदस्यों, मंत्री, विधायक और सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर को भी शामिल होना है. सांसद ने सीढ़ी चढ़ पाने में खुद को असमर्थ बताया है.

पहली बार जगह बदली
प्रज्ञा ठाकुर की इस परेशानी को जिला प्रभारी मंत्री गोविंद सिंह ने गंभीरता से लिया और तत्काल इस बार जिला योजना समिति की बैठक की जगह बदल दी. ऐसा पहली बार हो रहा है कि बैठक कलेक्ट्रेट के बाहर जिला पंचायत के दफ्तर में होगी. उसमें शहर के विकास पर मंथन होगा. उसी के आधार पर भोपाल शहर का मास्टर प्लान तैयार किया जाएगा.



लिफ्ट पर 25 लाख की आएगी लागत
फिलहाल तो जिला प्रशासन ने सांसद की समस्या को देखते हुए बैठक की जगह बदल दी है. लेकिन आगे से प्रज्ञा ठाकुर को दिक्कत ना हो इसलिए कलेक्ट्रेट में लिफ्ट लगायी जाएगी. इस पर पच्चीस लाख रुपए खर्च होंगे.

कई लोग होते हैं परेशान
बता दें कि भोपाल के कलेक्टर दफ्तर में हर दिन सैकड़ों लोग अपनी समस्याएं लेकर पहुंचते हैं. उनमें से कई बुजुर्ग और निशक्त (दिव्यांग) भी होते हैं. ऐसे में कलेक्ट्रेट ऊपरी मंजिल पर होने के कारण वो नीचे से ही लौट जाते हैं. अब भोपाल सांसद की तकलीफ के बाद प्रशासन का ध्यान इस ओर गया है. प्रभारी मंत्री गोविंद सिंह ने कहा, सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर के लिए ही नहीं लगायी जा रही बल्कि आम लोगों की सुविधा को ध्यान में रखकर ये फैसला लिया गया है.

ये भी पढ़ें- दिल्ली की तर्ज पर मध्य प्रदेश में भी खुलेंगे संजीवनी मोहल्ला क्लीनिक

प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष राकेश सिंह ने कहा-झूठ बोल रही है कमलनाथ सरकार
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज