Home /News /madhya-pradesh /

Lockdown के उल्लंघन पर पुलिस का खौफ, बालकनी से कूद गया युवक, जानें फिर क्या हुआ...

Lockdown के उल्लंघन पर पुलिस का खौफ, बालकनी से कूद गया युवक, जानें फिर क्या हुआ...

बालकनी से कूदने की वजह से शिवकुमार प्रजापति की दोनों टांगें टूट गईं.

बालकनी से कूदने की वजह से शिवकुमार प्रजापति की दोनों टांगें टूट गईं.

पुलिस का दावा है कि वाजपेयी नगर में बिना मास्क पहने कई लोग घूम रहे थे. सूचना पर पहुंची पुलिस पर भीड़ ने पत्थर बरसाए. पुलिस बचने के लिए पीछे हटी तो लोग घरों की तरफ भागने लगे. इस दौरान एक युवक ऊंची बिल्डंग से नीचे कूद गया.

भोपाल. राजधानी भोपाल (Bhopal) में एक कॉलोनी में उस समय भगदड़ मच गई, जब पुलिस (police) वहां पहुंच गई. बिना मास्क और सोशल डिस्टेंस (social distance) के घूम रहे लोगों में अफरातफरी मच गई. पुलिस की डर की वजह से एक युवक ने बहुमंजिला इमारत से छलांग लगा दी. उसके दोनों पैर फैक्चर हो गए. अब युवक हमीदिया अस्पताल में भर्ती है. पुलिस ने एफआईआर दर्ज की है.

यह घटना शाहजहांनाबाद स्थित वायपेयी नगर की है. यहां पुलिस की मार के डर से एक युवक ने मल्टी स्टोरिड बिल्डिंग की बालकनी से छलांग लगा दी. उसके बाद भी वो पुलिस से नहीं बच पाया. युवक के दोनों पैर टूट गए.

पुलिस के डर से लगाई छलांग
वाजपेयी नगर के रहनेवाले शिवकुमार प्रजापति ने बताया कि पत्नी ज्ञान देवी घर से थोड़ी दूरी पर किराने का सामान खरीदने जा रही थीं. शिवकुमार उनके पीछे कुछ दूर गए और लौटकर घर के पास खड़े हो गए. उन्होंने बताया कि इसी बीच दो पुलिसकर्मी पहुंचे. बेवजह घर से निकलने और मास्क न पहनने की वजह से वे लोगों को डंडे मारने लगे. ये देखकर शिवकुमार अपने घर की तरफ भागे. थोड़ी देर बाद करीब दर्जनभर पुलिसकर्मी कॉलोनी में पहुंच गए. वे उसकी बिल्डिंग में घुसकर लोगों को मारने लगे. इससे वे काफी डर गए. पुलिस उनके कमरे तक पहुंचती, इससे पहले उन्होंने अपनी बालकनी से नीचे छलांग लगा दी. ऊंचाई से कूदने की वजह से उनके दोनों पांव में प्रैक्चर आया है. शिवकुमार ने यह भी बताया कि पुलिसकर्मियों ने उनकी एक नहीं सुनी. इसके बाद पुलिस उन्हें थाने ले गई, जहां लॉकडाउन उल्लंघन का केस दर्ज किया. फिर उन्हें लेकर हमीदिया अस्पताल पहुंची. फ्रैक्चर होने पर दोनों पैर में प्लास्टर चढ़ा दिया गया. इसके बाद उन्हें घर छोड़ दिया गया.

मारपीट के आरोप से पुलिस का इनकार
घायल शिवकुमार का आरोप है कि बालकनी से कूदने के बाद पुलिस ने उन्हें डंडे से बेरहमी से पीटा. इससे उन्हें गंभीर चोटें आई हैं. वहीं थाना पुलिस का दावा है कि वाजपेयी नगर में बिना मास्क पहने कई लोग घूम रहे थे. सूचना पर पहुंची पुलिस पर भीड़ ने पत्थर बरसाए. पुलिस बचने के लिए पीछे हटी तो लोग घरों की तरफ भागने लगे. इस दौरान एक युवक ऊंची बिल्डिंग से नीचे कूद गया. वह मास्क नहीं पहने था. जबकि घायल का कहना कि उसका मास्क चेहरे से खिसक गया था. उसने तुरंत ही मास्क लगा लिया था। पुलिस ने घायल युवक के खिलाफ लॉकडाउन उल्लंघन का केस दर्ज किया है.

ये भी पढ़ें-

विशाखापट्टनम गैस लीक से याद हो आई भोपाल गैस कांड की वो सर्द स्याह रात

इंदौर में कोरोना मरीजों की तादाद में आई कमी, रिकवरी में देश में दूसरा नंबर

Tags: Corona duty, Corona epidemic, Corona patients, Corona warriors, Madhya pradesh Police

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर