लाइव टीवी

मध्य प्रदेश में संघ और बीजेपी की 'पॉलिसी' अपनाएगी कांग्रेस, AICC ने बनाया है यह प्लान

Anurag Shrivastav | News18 Madhya Pradesh
Updated: November 10, 2019, 5:40 PM IST
मध्य प्रदेश में संघ और बीजेपी की 'पॉलिसी' अपनाएगी कांग्रेस, AICC ने बनाया है यह प्लान
एमपी के उज्जैन में हुए प्रशिक्षण कार्यक्रम से उत्साहित कांग्रेस पार्टी ने नेताओं और कार्यकर्ताओं के ट्रेनिंग प्रोग्राम की संख्या बढ़ाने का निर्णय लिया है.

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में 15 साल बाद सत्ता हासिल करने के बाद कांग्रेस (Congress) पार्टी ने अपने संगठन को मजबूत करने की बनाई योजना. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) और बीजेपी (BJP) की तरह पार्टी संगठन को मजबूत करने के लिए AICC ने बनाई खास योजना.

  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में 15 साल बाद सत्ता में लौटी कांग्रेस (Congress) पार्टी प्रदेश में अपने संगठन को मजबूती देने के हरसंभव प्रयास में जुट गई है. इसके तहत पार्टी ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) और भारतीय जनता पार्टी (BJP) की तर्ज पर पार्टीजनों को ट्रेनिंग (training program) देने की योजना बनाई है. कांग्रेस-जनों को पार्टी की रीति-नीति बताने के लिए ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी (AICC) ने प्रशिक्षण कार्यक्रमों की संख्या बढ़ाने का फैसला किया है. उज्जैन (Ujjain) के मुंजाखेड़ी में आयोजित ट्रेनिंग कार्यक्रम के बाद अब पार्टी ने पुराने और सीनियर नेताओं के जरिए युवाओं को कांग्रेस की विचारधारा से जोड़ने का प्लान तैयार किया है.

बीजेपी के मुकाबले में आने पर जोर
सूबे में सत्ता के बदलाव के साथ ही अब बीजेपी के संगठन के मुकाबले कांग्रेस ने अपने संगठन को मजबूत बनाने का काम शुरू कर दिया है. पार्टी ने हाल ही में उज्जैन के मुंजाखेड़ी के ग्रासरूट ट्रेनिंग सेंटर में युवाओं को खास ट्रेनिंग देने का काम किया. पूरे हफ्ते चले कांग्रेस के गोपनीय ट्रेनिंग कार्यक्रम में पार्टी से जुड़ने वाले युवाओं को संगठन की बारीकियां समझाने के साथ ही भारतीय संविधान, कांग्रेस के इतिहास और पार्टी अनुशासन का पाठ पढ़ाया गया. एआईसीसी के इस ट्रेनिंग कार्यक्रम में मध्यप्रदेश समेत कई राज्यों के युवाओं को बुलाया गया था. इस कार्यक्रम के बाद कांग्रेस पार्टी ने तय किया है कि इस तरह के ट्रेनिंग कार्यक्रमों की संख्या को बढ़ाया जाएगा. देशभर के युवाओं को कांग्रेस की विचारधारा बताने के लिए प्रदेश के अलग-अलग हिस्सों में इस तरह के आयोजन किए जाएंगे.

लगातार चलेंगे प्रशिक्षण कार्यक्रम

प्रदेश के मंत्री गोविंद सिंह ने कहा है कि प्रदेश में पहले भी ट्रेनिंग कार्यक्रम संचालित हो रहे थे. लेकिन अब लगातार ट्रेनिंग कार्यक्रम चलाए जाएंगे. इधर, कांग्रेस पार्टी के आरएसएस और बीजेपी की तर्ज पर ट्रेनिंग प्रोग्राम चलाने को लेकर विपक्षी दल भाजपा ने टीका-टिप्पणी शुरू कर दी है. बीजेपी नेता इस योजना को लेकर कांग्रेस पर तंज कस रहे हैं. बीजेपी विधायक विश्वास सारंग के मुताबिक संघ के चरित्र और कांग्रेस की सोच में बड़ा अंतर है. कांग्रेस के विचारों से आज कोई भी प्रभावित नहीं होने वाला है.

3 राज्यों में जीत से उत्साहित है पार्टी
2018 के विधानसभा चुनाव में तीन राज्यों में मजबूत हुई कांग्रेस पार्टी के लिए अब मध्यप्रदेश पार्टी की पाठशाला लगाने के लिए अनुकूल हो गया है. एआईसीसी ने इसकी शुरुआत उज्जैन के मुंजाखेड़ी में पार्टी के बड़े ट्रेनिंग कार्यक्रम के साथ कर दी है. अब पार्टी की कोशिश की है कि कांग्रेस से जुड़े संगठनों एनएसयूआई, यूथ कांग्रेस, सेवा दल, महिला कांग्रेस समेत दूसरे संगठनों के ट्रेनिंग कार्यक्रम प्रदेश में आयोजित किए जाएं. इसके लिए उन स्थानों को चुना जा रहा है जो पार्टी की गतिविधियों के लिए अनुकूल हैं, ताकि संघ की तर्ज पर कांग्रेस से जुड़े संगठनों का विस्तार और पार्टी की विचारधारा को मजबूती दी जा सके.
Loading...

ये भी पढ़ें -

मैग्नीफिसेंट एमपी के बाद कमलनाथ सरकार की लंबी 'छलांग', दुबई में होगा ग्लोबल इनवेस्टर समिट

इंदौरः सफाई में नंबर-1 की राह में बजट बनी बाधा, सरकार के खिलाफ धरना देंगी मेयर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 10, 2019, 5:38 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...