मध्यप्रदेश के इन 18 जिलों में अलर्ट जारी, 24 घंटों में होगी भयंकर बरसात

भोपाल(bhopal) मौसम विभाग के कार्यालय में पदस्थ ड्यूटी अधिकारी आरआर त्रिपाठी ने बताया कि मौसम विभाग ने चेतावनी(alert) दी है.

News18 Madhya Pradesh
Updated: August 16, 2019, 11:14 AM IST
मध्यप्रदेश के इन 18 जिलों में अलर्ट जारी, 24 घंटों में होगी भयंकर बरसात
मध्यप्रदेश में भारी बारिश का अलर्ट
News18 Madhya Pradesh
Updated: August 16, 2019, 11:14 AM IST
मध्यप्रदेश(madhya pradesh) के 18 जिलों में शुक्रवार सुबह तक अत्यधिक वर्षा होने की चेतावनी दी गई है. भोपाल(bhopal) मौसम विभाग के कार्यालय में पदस्थ ड्यूटी अधिकारी आरआर त्रिपाठी ने बताया कि मौसम विभाग ने चेतावनी दी है. उनका कहना है कि गुरुवार सुबह साढ़े आठ बजे से शुक्रवार साढ़े आठ बजे तक मध्यप्रदेश के 18 जिलों में कुछ स्थानों पर भारी वर्षा और कहीं-कहीं पर अत्यधिक वर्षा होने की संभावना है.

उन्होंने कहा कि जिन 18 जिलों में अतिभारी से अत्यधिक भारी वर्षा होने की चेतावनी दी गई है, उनमें आगरमालवा, मंदसौर, रतलाम, शाजापुर, देवास, उज्जैन, नीमच, राजगढ़, सीहोर, गुना, अशोकनगर, शिवपुरी, श्योपुरकलां, मुरैना, धार, अलीराजपुर, झाबुआ एवं बड़वानी शामिल हैं.

मौसम विभाग की रिपोर्ट के अनुसार पिछले 24 घंटों के दौरान प्रदेश के पूर्वी संभागीय जिलों में मानसून सक्रिय तथा पश्चिमी संभागों के जिलों में प्रबल रहा. प्रदेश के सभी संभागों के जिलों में अधिकांश स्थानों पर वर्षा हुई.

सोनकच्छ एवं गोटेगांव में 12-12 सेंटीमीटर वर्षा दर्ज की

पिछले 24 घंटों में मध्यप्रदेश के पाटन में सबसे अधिक 24 सेंटीमीटर वर्षा दर्ज की गई, जबकि खुरई में 23 सेंटीमीटर, जबलपुर में 20 सेंटीमीटर, लटेरी एवं गंजबासोदा में 16-16 सेंटीमीटर, सारंगपुर, शुजालपुर, सिरोंज, करवाई एवं सीहोर में 14-14 सेंटीमीटर, ब्यावरा, भानपुर, आगर एवं रहेली में 13-13 सेंटीमीटर तथा टोंकखुर्द, गुना, सोनकच्छ एवं गोटेगांव में 12-12 सेंटीमीटर वर्षा दर्ज की गई.

प्रदेश के अधिकांश हिस्से पिछले तीन दिनों से पहले से ही भारी बारिश की चपेट में हैं, जिसके कारण कई निचले रहवासी इलाके पहले से ही जलमग्न हो गये हैं. प्रदेश के कई बांध, तालाब एवं जलाशय लबालब हो गये हैं और इनसे गेट खोलकर पानी छोड़ा जा रहा है.

इसी बीच, मध्यप्रदेश जन संसाधन विभाग के कार्यपालक अभियंता कमलेश रैकवार ने मीडिया को बताया कि मध्यप्रदेश के सबसे बड़े बांध इंदिरा सागर में बृहस्पतिवार को जलस्तर 260.40 मीटर तक पहुंच गया है, जो फुल लेवल से 1.73 मीटर कम है. इस बांध का फुल लेवल 262.13 मीटर है. खंडवा जिले में बने इस बांध की कुल क्षमता 8364 मिलियन क्यूबिक मीटर पानी भरने की है.
Loading...



ये भी पढ़ें:

कमलनाथ ने कहा फिर जापान चलेंगे, रोने लगे ICU में भर्ती गौर

जहर खाकर बहन के पास गया भाई, राखी बंधवाने के दौरान हुई मौत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 15, 2019, 9:18 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...