MP गजब है! सैलून वर्कर को 'सेक्स वर्कर' लिख कर आदेश जारी कर दिया, फजीहत हुई तो बदला

ACS मोहम्मद सुलेमान के एक आदेश ने शिवराज सरकार की किरकिरी करा दी.

ACS मोहम्मद सुलेमान के एक आदेश ने शिवराज सरकार की किरकिरी करा दी.

ACS हेल्थ मोहम्मद सुलेमान के हस्ताक्षर से जारी एक आदेश से हुई सरकार की किरकिरी. आदेश में जिलों को सेक्स वर्कर का वैक्सीनेशन पहले कराने को कहा गया था, जिसे बाद में बदल कर सैलून वर्कर करना पड़ा.

  • Share this:

भोपाल. प्रदेश में कोरोनावायरस के साथ कोविड-19 को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के निर्देश पर बनाए गए मंत्रियों के समूह की सिफारिशों पर अमल होना शुरू हो गया है. मंत्री समूह की एक सिफारिश पर आज स्वास्थ्य विभाग का एक आदेश सबसे ज्यादा चर्चा में रहा. अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य मोहम्मद सुलेमान के हस्ताक्षर से जारी एक आदेश में सबसे ज्यादा जोखिम वाले लोगों का पहले वैक्सीनेशन कराए जाने की बात कही गई.

स्वास्थ्य विभाग के जारी आदेश में सभी कलेक्टरों को यह आदेश जारी किया गया कि सबसे ज्यादा जोखिम वाले जिसमें राशन दुकान के विक्रेता, सिलेंडर सप्लाई करने वाले, पेट्रोल पंप स्टाफ, घर के काम करने वाली महिलाएं, किराना दुकान व्यापारी, सब्जी गल्ला मंडी के विक्रेता हाथ ठेला वाले दूध वाले वाहन, चालक, साइट मजदूर, मॉल होटल रेस्टोरेंट में काम करने वाले स्टाफ, शिक्षक केमिस्ट बैंकर्स, सुरक्षा गार्ड के साथ ही सेक्स वर्कर को भी शामिल किया गया था.


विभाग ने इन सभी का कोविड-19 टीकाकरण कराया जाना सुनिश्चित करने के आदेश जारी किया था. विभाग ने आदेश में कहा गया कि नई कार योजना के तहत ज्यादा जोखिम वाले समूह को सूचीबद्ध कर प्राथमिकता के आधार पर टीकाकरण कराया जाए, लेकिन विभाग के इस आदेश में सेक्स वर्कर शब्द को शामिल किए जाने को लेकर सवाल उठना शुरू हो गए.
कांग्रेस ने स्वास्थ्य विभाग के आदेश पर कसा तंज

एमपी कांग्रेस ने ट्वीट कर प्रशासनिक व्यवस्था पर सवाल उठाए और कहा सरकारी आदेश पर सेक्स वर्कर को पहले वैक्सीन लगाने का आदेश कहीं, बीजेपी नेताओं की विशेष मांग पर तो नहीं है. हालांकि आदेश के सुर्खियां बनते ही बनते ही स्वास्थ्य विभाग ने संशोधित आदेश जारी कर दिया. जिसमें सेक्स वर्कर की जगह सलून वर्कर शब्द शामिल किया गया.

दरअसल पहले जारी आदेश गफलत के कारण सलून वर्कर की जगह सेक्स वर्कर शब्द के साथ जारी हो गया. जिसे बाद में विभाग ने सुधारते हुए सेक्स वर्कर की जगह सैलून वर्कर को पहले वैक्सीन देने की प्राथमिकता वाला आदेश जारी कर दिया. लेकिन विभाग की तरफ से दूसरा आदेश जारी होने तक पहले आदेश को लेकर विभाग और व्यवस्था को लेकर चर्चा का बाजार जरूर गर्म हो गया.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज