अमित शाह इंपैक्टः मंत्रियों और विधायकों को आखिरी वॉर्निंग, सुस्त रहे तो कटेगा टिकट
Bhopal News in Hindi

अमित शाह इंपैक्टः मंत्रियों और विधायकों को आखिरी वॉर्निंग, सुस्त रहे तो कटेगा टिकट
अमित शाह (फाइल फोटो)

  • Share this:
भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के दौरे के बाद मध्य प्रदेश भाजपा में शाही पैमाने पर संगठन में कसावट लाने की कवायद तेज हो गई है.

अगले विधानसभा चुनाव में 200 पार के नारे को हर हाल में साकार करने के लिए प्रदेश संगठन ने कमजोर सीटों पर अमित शाह के दिए टिप्स को अमल में लाना भी शुरु कर दिया है.

पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष नंदकुमार सिंह चौहान ने कहा कि कमजोर विधानसभा सीटों पर संगठन की नजर है, मंत्रियों और विधायकों के लिए आखिरी हिदायत है कि वो अपने क्षेत्र में सक्रियता बरते, नहीं तो पार्टी उनका टिकट काटकर किसी और प्रत्याशी बनाएगी.



तीन दिवसीय दौरे में अमित शाह ने मंत्रियों को अपनी सीट के साथ ही पास की विधानसभा सीट को जिताने की भी जिम्मेदारी दी थी.
अमित शाह के निर्देशों के मुताबिक प्रदेश संगठन में बदलाव की चर्चाएं भी तेज हो गई हैं. बैठकों में शाह की नाराजगी के शिकार कई पदाधिकारियों को पदों से रुखसत भी किया जा सकता है. पार्टी प्रदेशाध्यक्ष नंदकुमार सिंह चौहान पहले ही शाह के टिप्स के मुताबिक संगठन में बदलाव लाने की बात कह चुके हैं.

18 से 20 अगस्त तक शाह ने 56 घंटे में सोलह बैठकें ली. इन बैठकों के जरिए शाह ने प्रदेश के छोटे से लेकर बड़े नेताओं की दूरदर्शिता, संगठन की विस्तारवादी सोच और आगामी चुनावों की तैयारी का लिटमस टेस्ट किया. हर बैठक में शाह ने संगठन को और मजबूत करने के टिप्स दिए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading