आनंद की जगह अध्यात्म: अब ऐसा होगा लोगों की खुशहाली का पैमाना!
Bhopal News in Hindi

आनंद की जगह अध्यात्म: अब ऐसा होगा लोगों की खुशहाली का पैमाना!
कमलनाथ की फाइल फोटो

एमपी के लोगों की खुशहाली का वो पैमाना भी अधूरा ही रहने वाला है जिसके सामने आने का इंतजार लंबे वक्त से किया जा रहा था

  • Share this:
मध्य प्रदेश में सत्ता परिवर्तन के बाद पुरानी सरकार की कई योजनाएं ठंडे बस्ते में जा चुकी हैं. कुछ के नाम बदले गए हैं तो कुछ को बंद करने का फैसला किया गया है. इन सबके बीच एमपी के लोगों की खुशहाली का वो पैमाना भी अधूरा ही रहने वाला है जिसके सामने आने का इंतजार लंबे वक्त से किया जा रहा था. आनंद विभाग को आध्यात्म विभाग करने के बाद अब ये लगभग तय है कि एमपी का हैप्पीनेस इंडेक्स शायद ही बने.

आनंद विभाग बनाकर एमपी के लोगों की जिंदगी में खुशिया भरने का शिवराज का इरादा सरकार जाते ही अधूरा रह गया. कमलनाथ सरकार ने न केवल आनंद विभाग को बंद कर इसे आध्यात्म विभाग का नया रूप दे दिया है बल्कि अब ये भी तय माना जा रहा है कि एमपी के लोगों की खुशहाली का पैमाना जांचने के लिए तैयार होने वाली हैप्पीनेस इंडेक्स भी ठंडे बस्ते में ही रहेगी.

शिवराज सिंह चौहान बोले- 2019 लोकसभा चुनाव में पार्टी को जिताएंगे!



दरअसल शिवराज सरकार ने हैप्पीनेस डिपार्टमेंट बनाने के बाद एमपी के लोगों की खुशहाली का पैमाना जांचने के लिए हैप्पीनेस इंडेक्स बनाने का काम शुरु किया था. इसके लिए जनता के बीच सर्वे भी शुरु कराया गया.
-10 जिलों के 900 लोगों के बीच सर्वे कराया गया था
-सर्वे दो हिस्सों में था, पहला ओपन इंटरव्यू जबकि दूसरा डोमेन बेस्ड इंटरव्यू
-ओपन इंटरव्यू में सर्वे के दौरान 5 सवाल पूछे गए
-जबकि डोमेन बेस्ड इंटरव्यू में 11 सवाल पूछे गए

सर्वे की इस रिपोर्ट को आईआईटी खड़गपुर भेजा गया था. आईआईटी खड़गपुर हैप्पीनेस इंडेक्स के लिए इस सर्वे के आधार पर प्रश्नावली तैयार करने का काम किया था. इस प्रश्नावली के आधार पर ही एमपी में हैप्पीनेस इंडेक्स तैयार होनी थी. लेकिन सरकार बदलते ही सीएम कमलनाथ ने हैप्पीनेस डिपार्टमेंट बंद करने का फैसला कर लिया. लिहाजा अब हैप्पीनेस इंडेक्स भी ठंडे बस्ते में है.

सरकारें बदलते ही योजनाओं का बदल जाना नई बात नहीं है. एमपी में भी हैप्पीनेस अब आध्यात्म का रूप ले चुका है. ऐसे में उम्मीद यही की जाना चाहिए कि हैप्पीनेस इंडेक्स भले सामने न आए लेकिन जनता के बीच खुशियां लाने की सरकारी कोशिशें कम न हों.

शिवराज की योजनाओं को बंद करने में नरम पड़े कांग्रेस सरकार के तेवर!
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading