आनंदीबेन पटेल ने ली मध्य प्रदेश के राज्यपाल पद की शपथ

उत्‍तर प्रदेश की राज्‍यपाल आनंदीबेन पटेल ने MP के गवर्नर पद का अतिरिक्त प्रभार लेते हुए शपथ ली.. (फाइल फोटो)
उत्‍तर प्रदेश की राज्‍यपाल आनंदीबेन पटेल ने MP के गवर्नर पद का अतिरिक्त प्रभार लेते हुए शपथ ली.. (फाइल फोटो)

स्वास्थ्य कारणों से मध्य प्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन छुट्टी पर हैं. उनकी नामौजूदगी में राष्ट्रपति ने उत्तर प्रदेश की गवर्नर आनंदीबेन पटेल (Anandiben Patel) को एमपी का अतिरिक्त प्रभार सौंपा है.

  • Share this:
भोपाल. उत्तर प्रदेश की गवर्नर आनंदीबेन पटेल (Anandiben Patel) ने आज मध्य प्रदेश के राज्यपाल (MP Governor) के रूप में शपथ लिया. लालजी टंडन (Lalji Tandon) की अनुपस्थिति में उन्हें राष्ट्रपति ने मध्य प्रदेश का अतिरिक्त प्रभार सौंपा है. राज्यपाल आनंदीबेन पटेल आज ही भोपाल पहुंचीं और उन्हें दोपहर 3:30 बजे एमपी की प्रभारी राज्यपाल के तौर पर शपथ दिलाया गया. आपको बता दें कि स्वास्थ्य कारणों से एमपी के राज्यपाल लालजी टंडन छुट्टी पर हैं. गुजरात की मुख्यमंत्री रह चुकीं आनंदी बेन पटेल की छवि तेजतर्रार, सख्त और कुशल प्रशासक की मानी जाती है.



राजनीति में आने से पहले आनंदीबेन पटेल शिक्षक रह चुकी हैं. अपने प्रोफेशन में कुशल होने के लिए राष्ट्रपति की ओर से उन्हें सम्मानित भी किया जा चुका है. वर्तमान में वे उत्तर प्रदेश की राज्यपाल हैं. वह वर्ष 1987 में राजनीति से जुड़ीं. इस दौरान भाजपा प्रदेश महिला मोर्चा अध्‍यक्ष, भाजपा उपाध्‍यक्ष, राष्‍ट्रीय कार्यकारिणी सदस्‍य जैसे महत्‍वपूर्ण पदों पर रहीं. आपको बता दें कि मध्य प्रदेश के वर्तमान राज्यपाल लालजी टंडन लखनऊ के मेदांता हॉस्पिटल में एडमिट हैं. उन्हें लीवर संबंधी समस्या के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था. लखनऊ मेदांता अस्पताल के निदेशक राकेश कपूर ने बीते दिनों राज्यपाल की हालात को गंभीर बताया था. उनकी नाजुक हालत को देखते हुए राष्ट्रपति ने यूपी की राज्यपाल को एमपी का अतिरिक्त प्रभार सौंपा है.




आनंदी बेन पटेल की राजनीति

- आनंदीबेन पटेल का जन्म 21 नवंबर 1941 में उत्तरी गुजरात के खरोद गांव में हुआ.
- आनंदीबेन के पति मफतभाई पटेल मनोविज्ञान के प्रोफ़ेसर और भारतीय जनता पार्टी नेता थे. उनकी वजह से वे राष्ट्रिय स्वयंसेवक संघ और बीजेपी के संपर्क में आई.
- वर्ष 1994-1998 तक राज्य सभा सदस्य रहीं.
- वर्ष 1998 मांडल विधानसभा क्षेत्र जिला अहमदाबाद से चुनकर विधायक बनी.
- वर्ष 1998 से 2002 तक गुजरात में मंत्री रहीं. वर्ष 2002, 2007 और 2012 में भी विधायक बनीं.
- 22 मई 2014 से 7 अगस्त, 2016 तक गुजरात की पहली महिला मुख्यमंत्री रही.
- 15 अगस्त 2018 से 28 जुलाई 2019 तक छत्तीसगढ़ की राज्यपाल रहीं.
- 23 जनवरी 2018 से 28 जुलाई 2019 तक मध्य प्रदेश की राज्यपाल रहीं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज