• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • MP: इन 'माननीयों' पर भी चल रहे हैं क्रिमिनल केस, क्या खतरे में है इनकी भी विधायकी?

MP: इन 'माननीयों' पर भी चल रहे हैं क्रिमिनल केस, क्या खतरे में है इनकी भी विधायकी?

बीजेपी विधायक प्रहलाद लोधी की तरह इनकी विधायकी भी खतरे में है

बीजेपी विधायक प्रहलाद लोधी की तरह इनकी विधायकी भी खतरे में है

बीते दिनों विशेष कोर्ट (Special Court) के एक फैसले के बाद MP में बीजेपी विधायक प्रह्लाद लोधी (Prahlad Lodhi) को अपनी विधानसभा सदस्यता से हाथ धोना पड़ा. विधानसभा स्पीकर (Speaker) ने कानूनी प्रावधानों का हवाला देकर दो साल की सजा होने पर उनकी सदस्यता खत्म कर दी. लेकिन क्या आप जानते हैं कि ऐसे क्रिमिनल केसेस को लेकर कई और विधायक भी हैं जिनकी विधायकी पर खतरा मंडरा सकता है.

  • Share this:
भोपाल. जिन प्रावधानों ने प्रहलाद लोधी (Prahlad Lodhi) की सदस्यता (Membership) को खतरे में डाला यदि उन्हें आधार माना जाए तो प्रदेश में ऐसे नेताओं की संख्या जानकर आप हैरान रह जाएंगे जिनपर आपराधिक मामले (Criminal cases) चल रहे हैं. नेशनल इलेक्शन वॉच (National Election watch) के डेटा (Data) के मुताबिक विधानसभा चुनाव (Assembly election 2018) के दौरान विधायकों की ओर से दिए गए हलफनामों के मुताबिक मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में 93 ऐसे विधायक (MLA) हैं जिनके खिलाफ क्रिमिनल केस चल रहे हैं, जबकि 47 ऐसे विधायक हैं जिन पर गंभीर क्रिमिनल केस दर्ज हैं. खास बात ये है कि इनमें बीजेपी (BJP) और कांग्रेस (Congress) दोनों पार्टियों के कई बड़े नेता शामिल हैं. चुनाव से संबंधित डाटा जुटाने वाली संस्था नेशनल इलेक्शन वॉच ने चुनाव के दौरान दिए गए विधायकों के हलफनामे के मुताबिक बताया है

इन विधायकों ने दी है क्रिमिनल केस की जानकारी
>> राजपुर सीट से विधायक और गृहमंत्री बाला बच्चन ने भी अपने खिलाफ क्रिमिनल केस होने की जानकारी दी है.
>> मंत्री हर्ष यादव, इमरती देवी, जीतू पटवारी, लखन घनघोरिया, लाखन सिंह यादव, स्पीकर एनपी प्रजापति, प्रदुम्न सिंह तोमर, तरुण भनोत, तुलसी सिलावट, पीसी शर्मा, ब्रजेंद्र सिंह राठौर के खिलाफ भी क्रिमिनल केस हैं.
>> भोपाल मध्य से कांग्रेस विधायक आरिफ मसूद के अलावा विधायक कुणाल चौधरी के खिलाफ भी क्रिमिनल केस है.

News - प्रदेश के 47 विधायकों ने अपने हलफनामे में गंभीर आपराधिक मामलों की जानकारी दी है.
प्रदेश के 47 विधायकों ने अपने हलफनामे में गंभीर आपराधिक मामलों की जानकारी दी है.


>> कांग्रेस विधायक हीरालाल अलावा के खिलाफ भी क्रिमिनल केस है.
>> पूर्व बीजेपी मंत्री गौरीशंकर बिसेन के खिलाफ भी क्रिमिनल केस है.
>> बीजेपी विधायक आकाश विजयवर्गीय के खिलाफ भी क्रिमिनल केस है.
>> बीजेपी विधायक मोहन यादव, जालम सिंह पटेल, कमल पटेल, पारस जैन, राजेंद्र शुक्ल, रामेश्वर शर्मा, संजय पाठक, सुरेंद्र पटवा समेत कई और विधायकों पर भी क्रिमिनल केस है.
>> सबसे ज्यादा 26 क्रिमिनल केस बीजेपी विधायक और पूर्व मंत्री सुरेंद्र पटवा के खिलाफ हैं.
>> खाद्य मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर के खिलाफ 20 और कानून मंत्री पी सीशर्मा के खिलाफ 14 क्रिमिनल केस हैं.

क्रिमिनल केस और नेताओं के तर्क
आम तौर पर नेता ये दलील देते रहते हैं कि जनता की समस्याओं के लिए लड़ाई लड़ते हुए उन्हें कानूनी केस का सामना करना पड़ता है लेकिन अब जबकि विशेष कोर्ट की ओर से दी गई सजा पर प्रह्लाद लोधी की विधानसभा से सदस्यता जाने पर बात निकली है तो दूर तलक जाएगी. बलवा के एक केस में विशेष कोर्ट ने पवई से बीजेपी विधायक प्रह्लाद लोधी को दो साल की सजा सुनाई गई थी जिसके बाद विधानसभा स्पीकर ने उनकी सदस्यता को खत्म कर दिया था. अपनी सजा के खिलाफ प्रह्लाद लोधी हाईकोर्ट गए थे जहां से उन्हें सजा पर 7 जनवरी तक स्टे मिला है, हालांकि अभी तक उनकी सदस्यता को विधानसभा ने बहाल नहीं किया है.

ये भी पढ़ें -
महाराष्ट्र LIVE: सरकार बनाने की कोशिशें तेज़, BJP के 7 विधायकों ने किया अजीत पवार को फोन
OPINION: केरल 'लॉबी' का विरोध, महाराष्ट्र के विधायकों का मन- शिवसेना को लेकर पसोपेश में सोनिया गांधी

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज