Home /News /madhya-pradesh /

एमपी को 15 साल बाद मिला मुस्लिम मंत्री, कहते हैं- 'जो मुझसे मिलने आया, वो मेरा है'

एमपी को 15 साल बाद मिला मुस्लिम मंत्री, कहते हैं- 'जो मुझसे मिलने आया, वो मेरा है'

आरिफ अकील

आरिफ अकील

आरिफ अकील भोपाल उत्तर विधानसभा सीट से लगातार 1998 से जीतते आ रहे हैं. उन्होंने अपने करियर की शुरुआत छात्र नेता के तौर पर की

    मध्य प्रदेश के नए मुख्यमंत्री कमलनाथ ने मंगलवार को अपने कैबिनेट का विस्तार किया और करीब 28 मंत्रियों को सरकार में शामिल किया. इसमें भोपाल उत्तर से विधायक आरिफ अकील भी शामिल हैं. मध्य प्रदेश सरकार में 15 साल बाद मुस्लिम समुदाय को आरिफ अकील के रूप में मंत्रिमंडल में जगह मिली है.

    आरिफ का जन्म 14 जनवरी 1952 को उत्तर प्रदेश के कौशांबी में हुआ है. आरिफ अकील पहली बार 1990 में नॉर्थ भोपाल से चुनाव जीते थे. 1990 में निर्दलीय चुनाव लड़कर आरिफ ने कांग्रेस के ही हसनाथ सिद्दीकी को हराया था और विधायक बने थे.

    उसके बाद आरिफ अकील भोपाल उत्तर विधानसभा सीट से लगातार 1998 से जीतते आ रहे हैं. उन्होंने अपने करियर की शुरुआत छात्र नेता के तौर पर की थी जब 1977 में वो एनएसयूआई के उपाध्यक्ष नियुक्त किए गए थे. उसके बाद लंबा वक्त बीता और 1990 में पहली बार निर्दलीय के तौर पर विधायक चुने गए. 1992 के बाबरी मस्जिद विध्वंस के बाद 1993 में हुए विधानसभा चुनाव में वो बीजेपी के रमेश शर्मा से हार गए थे.

    1998 का विधानसभा चुनाव वो कांग्रेस के टिकट पर लड़े और इस बार उन्होंने अपनी पिछली हार का बदला बीजेपी के रमेश शर्मा को हराकर ले लिया. उसके बाद से अकील की जीत का सिलसिला जारी है. आरिफ अकील अपने इलाके के बेहद लोकप्रिय नेता हैं. जनता से उनका सीधा संवाद रहता है. इलाके के लोगों की कोई भी समस्या हो वो सीधे आरिफ भाई से मिलता है और उसकी समस्या का समाधान भी होता है. आरिफ अकील कहते हैं मेरे पास आने वाला फरियादी मेरा होता है, इसलिए उसकी परेशानी दूर करना मेरी पहली ज़िम्मेदारी है.

    यह पढ़ें- मंत्री नहीं बनाए जाने से नाराज हीरालाल अलावा, राहुल गांधी से मांगा समय

    आपके शहर से (भोपाल)

    भोपाल
    भोपाल

    Tags: Bhopal, Madhya pradesh elections, Madhya pradesh news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर