Home /News /madhya-pradesh /

बाबरी मस्जिद विध्वंस केस : कौन है वो BJP नेता जिसने 5 घंटे में CBI कोर्ट के 1050 सवालों के दिए जवाब ?

बाबरी मस्जिद विध्वंस केस : कौन है वो BJP नेता जिसने 5 घंटे में CBI कोर्ट के 1050 सवालों के दिए जवाब ?

विवादित बाबरी ढांचा गिराने के मामले में करीब 32 लोग आरोपी बनाए गए थे.

विवादित बाबरी ढांचा गिराने के मामले में करीब 32 लोग आरोपी बनाए गए थे.

Babri Demolition Case: बजरंग दल के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष और मध्य प्रदेश बीजेपी के कद्दावर नेता जयभान सिंह पवैया (Jaibhan Singh Pawaiya) के 12 जून को बाबरी विध्वंस केस में सीबीआई स्पेशल कोर्ट (CBI Special Court) में अंतिम बयान दर्ज किए गए.

अधिक पढ़ें ...
भोपाल. बाबरी विध्वंस केस में सीबीआई स्पेशल कोर्ट (CBI Special Court) में जारी आरोपियों के बयान की कड़ी में 12 जून को बजरंग दल के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष और मध्य प्रदेश बीजेपी के कद्दावर नेता जयभान सिंह पवैया (Jaibhan Singh Pawaiya) के अंतिम बयान दर्ज किए गए. ग्वालियर से लखनऊ पहुंचे जयभान सिंह पवैया ने सीबीआई कोर्ट में अपने बयान दर्ज कराए. कोर्ट में 5 घंटे तक चली कार्रवाई के दौरान उनसे कुल 1050 सवाल किए गए. इनमें कुछ सवाल प्रश्नावली के तहत पूछे गए जबकि कुछ सवाल जज की ओर से पूछे गए. जयभान सिंह पवैया ने इन सभी 1050 सवालों के जवाब दिए. यह माना जा रहा है कि सीबीआई कोर्ट में आरोपियों के बयान दर्ज होने के बाद बाबरी विध्वंस केस में 31 अगस्त तक फैसला आ सकता है. सीबीआई की विशेष कोर्ट में बयान दर्ज कराने के बाद जयभान सिंह पवैया ने अपने बयान में कहा है कि अगर राम काज के लिए उन्हें कोई कुर्बानी देनी पड़ी तो वह इसके लिए तैयार हैं.

क्या है मामला ?
6 दिसंबर 1942 को अयोध्या में विवादित बाबरी मस्जिद का ढांचा गिरा दिया गया था. इस मामले में बीजेपी के कई दिग्गज नेताओं को आरोपी बनाया गया था, जिसमें लाल कृष्ण आडवाणी, उमा भारती, मुरली मनोहर जोशी, कल्‍याण सिंह, जयभान सिंह पवैया समेत कई और बड़े नेता शामिल थे. इन सभी ने अदालती कार्रवाई का सामना किया. कई साल से चल रहे इस केस में कुछ आरोपियों की मृत्यु भी हो चुकी है. अब यह सुनवाई अंतिम दौर में मानी जा रही है जिसके तहत आरोपियों के बयान दर्ज हो रहे हैं.

एमपी से उमा-जयभान दो बड़े नाम
विवादित बाबरी ढांचा गिराने के मामले में करीब 32 लोग आरोपी बनाए गए थे. इनमें मध्य प्रदेश से पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती और पूर्व मंत्री जयभान सिंह पवैया के नाम प्रमुख तौर पर शामिल हैं. केस में उमा भारती को खराब स्वास्थ्य के चलते व्यक्तिगत पेशी से छूट मिली थी. जबकि जयभान सिंह पवैया अदालत की सुनवाई के दौरान पेश होते रहे हैं. पवैया बीजेपी के उन 7 बड़े नेताओं में शामिल हैं जिन्हें ढांचा गिरने के बाद 1993 में 13 दिन के लिए जेल भेजा गया था. इसी साल फरवरी 1993 में जयभान सिंह के ग्वालियर स्थित घर पर सीबीआई ने छापा मार कार्रवाई की थी.ये कवायद ढांचे की ईंट तलाशने के लिए की गई थी, लेकिन सीबीआई घर से उसे तलाश नहीं पाई थी.

ये भी पढ़ें

क्वारंटाइन सेंटर में जिस रेलकर्मी की लटकी मिली लाश उसे जाना था दिल्ली, लेकिन..

आपके शहर से (लखनऊ)

Tags: Babri Masjid Demolition Case, Babri mosque demolition, Bhopal news, CBI, Kalyan Singh, Lucknow news, Uma bharti

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर