होम /न्यूज /मध्य प्रदेश /PFI पर बैन के बाद पीएम मोदी के दौरे को लेकर बढ़ी सुरक्षा एजेंसियों की चिंता, एमपी पुलिस हाईअलर्ट पर

PFI पर बैन के बाद पीएम मोदी के दौरे को लेकर बढ़ी सुरक्षा एजेंसियों की चिंता, एमपी पुलिस हाईअलर्ट पर

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 11 अक्टूबर को महाकाल कॉरिडोर का लोकार्पण करने उज्जैन आ रहे हैं.

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 11 अक्टूबर को महाकाल कॉरिडोर का लोकार्पण करने उज्जैन आ रहे हैं.

Police on High Alert : 11 अक्टूबर को पीएम नरेंद्र मोदी उज्जैन दौरे पर रहेंगे. इस दौरान मोदी महाकाल लोक कोरिडोर का उद्घा ...अधिक पढ़ें

भोपाल. पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया PFI पर बैन और उसके बाद मिल रहे खुफिया इनपुट ने एमपी पुलिस को हाई अलर्ट पर कर दिया है. अगले महीने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी महाकाल कॉरिडोर का उद्घाटन करने उज्जैन आ रहे हैं. इसलिए पुलिस की चिंता और बढ़ गयी है. पुलिस मुख्यालय ने पीएफआई के प्रभाव वाले जिलों में विशेष सतर्कता बरतने के निर्देश दिए हैं. साथ ही उज्जैन में सुरक्षा व्यवस्था के लिए बड़ा प्लान तैयार किया है. इस प्लान के आधार पर सुरक्षा के इंतजाम किए जा रहे हैं.

11 अक्टूबर को पीएम नरेंद्र मोदी उज्जैन दौरे पर रहेंगे. इस दौरान मोदी महाकाल लोक कोरिडोर का उद्घाटन करेंगे. उनके दौरे से ऐन पहले पीएफआई पर बैन के बाद मध्य प्रदेश पुलिस हाई अलर्ट पर आ गई है. पुलिस मुख्यालय ने सभी जिलों को अतिरिक्त सुरक्षा व्यवस्था रखने के निर्देश दिए हैं. पीएफआई प्रभावित वाले जिले इंदौर, उज्जैन, खंडवा, मंदसौर, श्योपुर, नीमच, राजगढ़, भोपाल पुलिस को अतिरिक्त सुरक्षा व्यवस्था के इंतजाम करने के निर्देश दिए हैं.

ऐसी रहेगी उज्जैन की सुरक्षा
पुलिस मुख्यालय ने पीएम के दौरे के दौरान उज्जैन जिले के लिए सुरक्षा खास इंतजाम किए हैं. इसके लिए अतिरिक्त फोर्स आसपास के जिलों से बुलाया गया है. आईपीएस अफसरों की एक लंबी फौज सुरक्षा में तैनात की गई है. इंटेलिजेंस सिस्टम को सक्रिय कर दिया गया है. पीएम मोदी की सुरक्षा में एसपीजी के साथ बाहरी सुरक्षा की जिम्मेदारी मध्य प्रदेश पुलिस की है. कार्यक्रम स्थल से लेकर संवेदनशील इलाकों तक चप्पे-चप्पे पर पुलिस फोर्स तैनात किया जाएगा. तीसरी सिक्यूरिटी लेयर में पुलिस के सशस्त्र जवान तैनात रहेंगे. इसके अलावा पुलिस का एक्स्ट्रा फोर्स भी कंट्रोल रूम में मौजूद रहेगा. हाई राइज बिल्डिंग के साथ सादी वर्दी में भी पुलिस तैनात रहेगी.

ये भी पढ़ें- राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा में मध्य प्रदेश में शामिल होंगी सोनिया और प्रियंका

बीजेपी और संघ कार्यालय की नहीं बढ़ी सुरक्षा
इधर, पीएफआई पर प्रतिबंध के बाद भोपाल के बीजेपी मुख्यालय और आरएसएस के समिधा कार्यालय की सुरक्षा नहीं बढ़ाई गई है. अभी भी वहां पर एक चार की गार्ड तैनात है. हाल ही में उज्जैन के संघ कार्यालय की सुरक्षा बढ़ाई गई थी. लेकिन हाईअलर्ट के बावजूद भोपाल में बीजेपी मुख्यालय और संघ कार्यालय की सुरक्षा जस की तस है. यह स्थिति जब है तब पीएफआई पर बैन के बाद प्रदेश में हाईअलर्ट जारी किया गया है.

Tags: Gwalior news, Madhya pradesh latest news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें