AIIMS भोपाल के ICU में बढ़ायी जाएगी बेड क्षमता,चिकित्सा शिक्षा मंत्री ने प्रबंधन से की चर्चा
Bhopal News in Hindi

AIIMS भोपाल के ICU में बढ़ायी जाएगी बेड क्षमता,चिकित्सा शिक्षा मंत्री ने प्रबंधन से की चर्चा
कोविड और नॉन कोविड वार्डो में लगभग 40 सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे

एम्स (AIIMS) को 15 अतिरिक्त वेंटीलेटर उपलब्ध करवाए जाएंगे.आने वाले समय में 100 वेंटीलेटर अतिरिक्त उपलब्ध करवाने के लिये केन्द्र से चर्चा की गई है

  • Share this:
भोपाल. भोपाल स्थित AIIMS में कोरोना वॉर्ड में बेड बढ़ाए जाएंगे. आने वाले समय में वेटिंलेटर भी बढ़ाए जाएंगे. हॉस्पिटल में कैमरे लगाए जाएंगे ताकि मरीज़ों और डॉक्टरों दोनों पर नज़र रखी जा सके. राज्य सरकार ने वादा किया है कि वो AIIMS में सुविधाएं बढ़ाने में हर संभव मदद करेगी.

चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने गुरुवार को भोपाल स्थित AIIMS का दौरा किया. उन्होंने कोरोना संकटकाल में अस्पताल की व्यवस्था का जायज़ा लिया.एम्स प्रबंधन से चर्चा कर मंत्री ने कहा है कि एम्स में आईसीयू बेड क्षमता बढ़ाई जाए.इसके लिये राज्य शासन हर संभव मदद करेगा. सारंग ने AIIMS में उपलब्ध सुविधाओं और व्यवस्थाओं की जानकारी ली. उन्होंने मंत्री को बताया कि जल्द ही आने वाले समय में हॉस्पिटल में कैमरे भी लगाए जा रहे हैं जिससे मरीजों और वार्डो की स्थिति पर नजर रखी जा सके.

मंत्री ने दिए निर्देश
मंत्री  सारंग ने कहा कि शासन की ओर से एम्स को 15 अतिरिक्त वेंटीलेटर उपलब्ध करवाए जाएंगे.आने वाले समय में 100 वेंटीलेटर अतिरिक्त उपलब्ध करवाने के लिये केन्द्र से चर्चा की गई है. उन्होंने नेशनल हेल्थ मिशन की सहायता से प्रोजेक्ट के तौर पर पैरा-मेडिकल स्टॉफ की संख्या भी बढ़ाने के लिए कहा. मंत्री सारंग ने कहा कि एम्स के डॉक्टर्स और उपलब्ध सुविधाओं का भोपाल और मध्यप्रदेश के नागरिकों को लाभ मिले, इसके लिये शासन और विभाग की ओर से भी मदद उपलब्ध कराई जाएगी.
सुविधा लैस होगा एम्स


कोरोना संकट के दौरान अस्पतालों में मरीजों को सही उपचार न मिलने और स्टाफ के वॉर्ड से गायब रहने की शिकायतें मिलतीं रहतीं हैं. साथ ही अस्तालों में भर्ती कोरोना मरीजों की सेहत की स्थिति को लेकर सही जानकारी नहीं मिल पाती है.ये दिक्कत दूर करने के लिए एम्स भोपाल ने एक अच्छी पहल शुरू की है.एम्स के कोविड और नॉन कोविड वार्डो में लगभग 40 सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे.इससे अस्पताल में भर्ती मरीजों के उपचार के लिए मौजूद स्टाफ पर प्रबंधन की नजर रहेगी.

नर्सिंग ड्यूटी स्टेशन पर लगेंगे कैमरे
एम्स प्रबंधन के मुताबिक कोरोना मरीजों के इलाज को लेकर परिवार की शंकाओं का समाधान करने के लिए आईसीयू को छोड़कर कोविड और नॉन कोविड वार्डों के नर्सिंग स्टेशन पर सीसीटीवी कैमरे लगाए जा रहे हैं.एम्स प्रबंधन के अधिकारी कोविड वार्ड में कैमरों की ऐसी फिटिंग कराने चाहते थे जिससे भर्ती मरीजों पर कैमरे की नजर रहे. लेकिन अस्पताल के डॉक्टर्स ने निजता का हवाला देते हुए मरीजों को कैमरे से दूर रखने का फैसला लिया.नर्सिंग ड्यूटी स्टेशन पर लगाने की बात कही.अब एम्स के लगभग 32 वार्डों में 35 से 40 कैमरे लगाए जाएंगे.इसका कंट्रोल रूम डायरेक्टर आफिस में होगा. इस व्यवस्था से अब हर वार्ड में 24 घंटे स्टाफ की मौजूदगी की स्थिति पता लग सकेगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज