अपना शहर चुनें

States

भोपाल में युवती के साथ हैवानियत, राहुल गांधी ने ट्वीट कर शिवराज सरकार को घेरा

रेप पीड़ित भोपाल के एक निजी अस्पताल में भर्ती है.
रेप पीड़ित भोपाल के एक निजी अस्पताल में भर्ती है.

BHOPAL : भोपाल में हुई दरिंगदी की इस घटना से सब स्तब्ध हैं.रेप पीड़िता के इलाज के लिए मुख्यमंत्री सहायता कोष से मदद की जाएगी और इस मामले की जांच SIT करेगी.

  • Share this:
भोपाल.भोपाल में एक युवती के साथ हुई हैवानियत और ज़्यादती से सनसनी फैल गयी है. इलाके के निगरानीशुदा बदमाश की हैवानियत के बाद युवती की रीढ़ की हड्डी टूट गयी है और वो एक महिने से अस्पताल में भर्ती है.मामला एक महिने पुराना है जिसमें पहले सिर्फ छेड़छाड़ का केस दर्ज किया गया था.इस मामले पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने भी शिवराज सरकार पर उंगली उठायी है.उन्होंने कहा यही है सरकार के बेटी बचाओ अभियान का सच.

मामला 18जनवरी का बताया जा रहा है.कोलार इलाके में रहने वाली 24 साल की युवती मॉर्निंग वॉक पर जा रही थी. उसी दौरान इलाके के एक निगरानीशुदा बदमाश ने उसे अपनी बाइक से टक्कर मारकर गिरा दिया. युवती नाले में गिर पड़ी. पीड़ित युवती ने बयान दिया है कि आरोपी ने उसके साथ रेप किया.इस ज़्यादती में युवती की रीढ़ की हड्डी टूट गई है और एक महीने से वो अस्पताल में भर्ती है.

कलेक्टर ने पीड़ित का हाल जाना
भोपाल कलेक्टर अविनाश लवानिया को जब इस बारे में पता चला तो वो युवती से मिलने अस्पताल गए.उन्होंने युवती के इलाज के लिए मुख्यमंत्री सहायता कोष से मदद देने का आश्वासन दिया.भोपाल डीआईजी इरशाद वली ने कहा कि इस मामले को चिन्हित में रख दिया गया है. सीएसपी के नेतृत्व में एक टीम गठित कर दी है जो इस विषय में जांच करेगी.
CCTV फुटेज क्लियर नहीं


इस बीच एक सीसीटीवी फुटेज मिला है.लेकिन फुटेज क्लियर नहीं है. युवती के बयान के बाद और धाराएं बढ़ा दी गई हैं.बयान में उसने कहा है कि युवक ने उसका रेप किया है.इसी बयान के आधार पर आरोपी के खिलाफ रेप की धाराएं बढ़ाई गईं हैं.पूरे मामले में पुलिस जांच में जुटी हुई है और प्रशासन अलर्ट है.आरोपी पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है.उसका आपराधिक रिकॉर्ड है. पुलिस का कहना है इस मामले में बाकी जो भी आरोपी हैं सभी को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

धाराएं बढ़ायीं
इस मामले में पुलिस ने पहले पीड़िता के कथन पर धारा 354 के तहत मामला दर्ज किया था.लेकिन अब नये बयान के बाद उसमें इज़ाफा कर धारा 376, 307 का भी प्रकरण दर्ज कर लिया है.इस मामले में लापरवाही के आरोप में टीआई को नोटिस दिया गया है.साथ ही एक SIT बना दी है.

राहुल गांधी ने किया ट्वीट
इस घटना पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भी संज्ञान लिया.उन्होंने ट्वीट किया-भोपाल रेप पीड़िता एक महीने बाद भी न्याय से कोसों दूर है. क्योंकि बीजेपी हमेशा पीड़ित को ही रेप का ज़िम्मेदार ठहराती है और कार्रवाई में ढील देती है.इसका फायदा अपराधियों को होता है. यही है सरकार के ‘बेटी बचाओ’ का सच!
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज