भोपाल नाव हादसा : शिवराज सिंह चौहान ने जांच पर उठाए सवाल, लिपटकर रो पड़े पीड़ित परिवार, देखें Video

शिवराज सिंह ने सवाल उठाया कि अपने वरिष्ठ अधिकारियों की गलती एडीएम कैसे निकालेंगे.

News18 Madhya Pradesh
Updated: September 13, 2019, 12:35 PM IST
भोपाल नाव हादसा : शिवराज सिंह चौहान ने जांच पर उठाए सवाल, लिपटकर रो पड़े पीड़ित परिवार, देखें Video
पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान हमीदिया अस्पताल पहुंचे, जहां मृतकों के शवों को पोस्टमॉर्टम हो रहा था
News18 Madhya Pradesh
Updated: September 13, 2019, 12:35 PM IST
भोपाल.भोपाल(BHOPAL) के खटला पुरा नाव हादसे (boat tragedy) पर पूर्व CM शिवराज सिंह चौहान (SHIVRAJ SINGH CHAUHAN)ने अफसोस जताते हुए इसके लिए प्रशासन को ज़िम्मेदार ठहराया है. उन्होंने शासन से पीड़ित परिवारों को 25 लाख रुपए मुआवज़ा देने की मांग की है. शिवराज सिंह चौहान ने कहा-हादसे के जिम्मेदार और दोषियों पर कार्रवाई होनी चाहिए.  शिवराज सिंह ने जांच पर सवाल उठाया कि अपने वरिष्ठ अधिकारियों की गलती एडीएम कैसे निकालेंगे.



हादसे की ख़बर मिलते ही पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान हमीदिया अस्पताल पहुंचे और मृतकों के परिवार से मिले. पीड़ित परिवार उनसे लिपटकर रो पड़े. शिवराज सिंह ने सरकार से पीड़ित परिवारों को 25 लाख का मुआवज़ा और नौकरी देने की मांग की. उन्होंने पीड़ित परिवारों को ढांढस बंधाया.

घटना को बताया आपराधिक लापरवाही

शिवराज सिंह चौहान ने कहा इस नाव दुर्घटना के लिए साफ तौर पर कलेक्टर और नगर निगम कमिश्नर जिम्मेदार हैं.जिला प्रशासन और नगर निगम का काम है कि विसर्जन घाट पर गोताखोरों की व्यवस्था रखें. पुलिस और होमगार्ड की जिम्मेदारी है कि नाव में अधिक लोगों को को न बैठने दिया जाए.

जांच पर सवाल-उन्होंने कहा मजिस्ट्रियल जांच भोपाल एडीएम करेंगे. गलती कलेक्टर और नगर निगम कमिश्नर की है. शिवराज सिंह ने सवाल उठाया कि अपने वरिष्ठ अधिकारियों की गलती एडीएम कैसे निकालेंगे. 11 लोगों की मौत हुई है, कलेक्टर, नगर निगम कमिश्नर सहित अन्य अधिकारियों को हटाकर इनके वरिष्ठ अधिकारी से जांच कराना चाहिए.पुलिस के आला अधिकारी इसके लिए जिम्मेदार हैं.

Loading...

(भोपाल से मनोज राठौर)

ये भी पढ़ें-गणपति मूर्ति विसर्जन के दौरान नाव हादसा, 11 लोगों की मौत, बाक़ी की तलाश जारी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 13, 2019, 11:14 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...