BHOPAL : वाट्सऐप के ज़रिए शौहर ने दिया ट्रिपल तलाक, शिवराज ने कहा - हम अन्याय नहीं होने देंगे
Bhopal News in Hindi

BHOPAL : वाट्सऐप के ज़रिए शौहर ने दिया ट्रिपल तलाक, शिवराज ने कहा - हम अन्याय नहीं होने देंगे
महिला का पति बेंगलुरू में सर्विस करता है.

पति फैज ने घर से निकालने से पहले उनका पर्स भी छीन लिया. पर्स में एटीएम (ATM) और क्रेडिट कार्ड भी थे. पति ने महिला की मां और दोनों बच्चों को जबरन घर पर रोककर रखा.

  • Share this:
भोपाल. CM शिवराज सिंह चौहान ने ट्रिपल तलाक (Triple talaq) पीड़ित भोपाल की मुस्लिम महिला को इंसाफ दिलाने का भरोसा दिलाया है. महिला का पति बेंगलुरु में रहता है और उसने सोशल मीडिया वाट्सऐप के ज़रिए पत्नी को तीन तलाक दे दिया है. पीड़ित महिला ने पुलिस (Police) में शिकायत दर्ज कराने के बाद आज भोपाल में सीएम शिवराज सिंह चौहान से मुलाकात कर पूरी बात बतायी.

भोपाल के कोहेफिजा इलाके में रहने वाली एक मुस्लिम महिला को वाट्सऐप कॉल कर तीन तलाक दे दिया. महिला की शादी को 19 साल हो चुके हैं. महिला भोपाल की ही रहने वाली है. उनकी शादी भोपाल के ही फैज आलम अंसारी से 2001 में हुई थी. फैज उस समय सिंगापुर में एक होटल के रेस्टोरेंट में असिस्टेंट मैनेजर था. फिलहाल फैज बेंगलुरु में हैं. पीड़िता का आरोप है कि 10 अगस्त 2020 को देर रात बेंगलुरु में ही फैज ने उससे झगड़ा शुरू किया और सुबह चार बजे उसे घर से निकाल दिया. घर से निकालने से पहले पति ने उनका पर्स भी छीन लिया. पर्स में एटीएम और क्रेडिट कार्ड भी थे. पति ने महिला की मां और दोनों बच्चों को जबरन घर पर रोककर रखा.

पति की ज़्यादती
घर से निकाले जाने के बाद महिला तीन दिन तक अपनी सहेली के घर रुकी रहीं कि शायद फैज को अपने किए पर पछतावा हो और उन्हें वापस बुला ले. लेकिन फैज इसके लिए तैयार नहीं हुआ. उल्टा ये शर्त रख दी कि वो अगर भोपाल नहीं लौटी तो उसकी मां को नहीं छोड़ेगा. मजबूरन महिला अपनी मां के साथ भोपाल लौट आयी.
पत्नी, साले और सास पर केस


बेंगुलरु में रहने के दौरान महिला ने पति के पास रह रहे अपने बच्चों से बात करने की कई बार कोशिश की. जब बच्चों से बात नहीं हो पायी तो वो बच्चों से मिलने की कोशिश में पति फैज के घर गयीं. लेकिन फैज ने अपने रसूख का फायदा उठाकर उल्टे पत्नी, साले और सास के खिलाफ जबरन घर में घुसने और मारपीट करने की शिकायत पुलिस में दर्ज करा दी.

थाने में रिपोर्ट
कोहेफिजा  थाना  इलाके  के सीएसपी नागेंद्र पटेरिया ने बताया कि 14 अगस्त को महिला भोपाल लौट आयीं और फिर भोपाल में कोहेफिजा थाने में शिकायत दर्ज कराई.

सीएम को सुनायी पीड़ा
तीन तलाक पीड़ित मुस्लिम महिला ने सीएम शिवराज से की मुलाकात कर अपनी पीड़ा सुनाई. सीएम ने पीड़ित महिला को न्याय का भरोसा दिलाया है. उन्होंने अधिकारियों को दिए जल्द कार्रवाई के निर्देश दिए हैं. महिला ने सीएम शिवराज को इसके लिए शुक्रिया अदा किया. साथ ही कहा कि वो तीन तलाक कानून के लिए पीएम मोदी को भी शुक्रिया कहेंगी.

सीएम शिवराज ने कहा- कर्नाटक के सीएम से बात करूंगा
महिला की ओर से कोहेफिजा पुलिस थाने में की गई शिकायत में बताया गया है कि शादी के बाद दोनों सिंगापुर चले गए थे, वहां पांच साल रहे, फिर मलेशिया में रहने के बाद बेंगलुरु में आ बसे. उसके दो बेटे हैं. पिछले दिनों तबीयत खराब होने पर महिला ने अपनी मां को बेंगलुरु बुलाया. इसके बाद पति नाराज हुआ और उसे घर से बाहर निकाल दिया. फिर फोन करके तलाक दे दिया. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने कहा आपके साथ अन्याय नहीं होगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज