कोरोना संकट में CM शिवराज ने फोन पर की PM मोदी से बात, भोपाल में बैठकों का दौर जारी

CM शिवराज ने पीएम मोदी को एमपी में कोरोना के हालात की जानकारी दी,

CM शिवराज ने पीएम मोदी को एमपी में कोरोना के हालात की जानकारी दी,

Bhopal-भोपाल में मुख्यमंत्री निवास में योग से निरोग कार्यक्रम की बैठक भी हुई. इसमें अधिकारियों ने योग से निरोग कार्यक्रम की विस्तृत जानकारी मुख्यमंत्री को दी.

  • Share this:
भोपाल. कोरोना आपदा (Corona Crisis) से निपटने की कोशिशों के बीच मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से फोन पर चर्चा की. मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री को मध्य प्रदेश में कोरोना संक्रमण नियंत्रण के लिए की जा रही व्यवस्थाओं एवं प्रयासों की जानकारी दी.

इस दौरान प्रधानमंत्री ने राज्य में लगाए गए कोरोना कर्फ्यू और जनभागीदारी से कोरोना नियंत्रण के प्रयासों की तारीफ की प्रधानमंत्री ने प्रदेश में माइक्रो कॉन्टेनमेंट जोन के प्रभावी अमल और कोरोना संक्रमण रोकने में जनता की सक्रिय भागीदारी पर भी खुशी जाहिर की है. बातचीत के दौरान केंद्र सरकार की ओर से एमपी को भरोसा दिलाया गया है कि आपदा से निपटने के लिए जो भी संभव मदद होगी वो राज्य को दी जाएगी.

Youtube Video


योग से निरोग
भोपाल में मुख्यमंत्री निवास में योग से निरोग कार्यक्रम की बैठक भी हुई. इसमें अधिकारियों ने योग से निरोग कार्यक्रम की विस्तृत जानकारी मुख्यमंत्री को दी. प्रदेश में कोरोना संक्रमित मरीज़ों को फोन करके योग से संबंधित जानकारी दी जा रही है. ट्रेंड योग शिक्षक वीडियो कॉलिंग के माध्यम से मरीजो को योग सिखा रहे हैं. बैठक में मंत्री इंदर सिंह परमार और राम किशोर कांवरे शामिल हुए. प्रदेश के हर जिले में योग से निरोग कार्यक्रम शुरू हो चुका है. होम क्वारेंटीन और आइसोलेशन में रह रहे लोगों को योग से निरोग रखने के प्रयास किए जा रहे हैं.

तैयारियों पर बैठकों के दौर

इधर कोरोना से निपटने के लिए सरकार की कोशिश लगातार स्वास्थ्य सुविधाओं को विस्तार देने की है.  बीना में बन रहे अस्पताल के संबंध में चर्चा के लिए सीएम हाउस में एक अहम बैठक हुई. इसमें बीना में बन रहे 1000 बिस्तर के अस्पताल के निर्माण कार्य की प्रगति की समीक्षा की गई. बीना रिफायनरी के बगल में बन रहे अस्थायी अस्पताल के लिए  DRDO का सहयोग करेगा. अस्पताल निर्माण में बीना रिफायनरी ऑक्सीजन सप्लाई करेगा. इस अस्पताल को ऐसा बनाया जाएगा जो हर मौसम के अनुरूप होगा. बिजली और पानी की सप्लाई की व्यवस्था रहेगी साथ ही मरीजों के खान-पान, पानी, चाय, काढ़ा की व्यवस्था शासन के साथ अक्षय पात्रा फाउंडेशन उपलब्ध करेगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज