अपना शहर चुनें

States

CM शिवराज का बयान, बोले- लड़की की शादी की उम्र 18 के बजाए हो 21, इस पर समाज में हो सार्थक बहस

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

सीएम (CM) ने पोर्न फिल्मों (PORN Film) से बच्चो में बढ़ रही अपराध की मानिसकता को लेकर भी चिंता जताई. उन्होंने कहा इसे लेकर आउट ऑफ बॉक्स सोचना पड़ेगा. केवल पुलिस को गाली देने से काम नहीं चलेगा.

  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश (MP) के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने लड़कियों की शादी की उम्र 18 साल से बढ़ाकर 21 साल करने की पैरवी की है. चौहान ने राजधानी भोपाल के मिंटो हॉल में पुलिस (Police) विभाग के सम्मान कार्यक्रम में यह बात कही. मुख्यमंत्री महिला और बच्चों के साथ होने वाले अपराध को लेकर अपनी बात रख रहे थे.

इस दौरान उन्होंने कहा, ' मेरा मानना है कि लड़कियों की शादी की उम्र 18 साल से बढ़ाकर 21 साल की जानी चाहिए. इस पर समाज में एक सार्थक बहस शुरू होनी चाहिए.' हालांकि मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस विषय को लेकर गंभीर हैं, लेकिन सामाजिक तौर पर भी इस पर चर्चा होनी चाहिए. ये बात सीएम ने लड़कियों को बहला फुसलाकर उनके साथ होने वाले अपराध के जिक्र के दौरान कही. सीएम ने कार्यक्रम के दौरान आंकड़ों का जिक्र करते हुए कहा इस साल गायब हुई 7 हज़ार बेटियों को बरामद किया गया है. जबकि 4 हज़ार बेटियां अभी भी गायब हैं. इन्हें तलाश करने के लिए विशेष अभियान चलाया जाएगा और इसकी मॉनिटरिंग हर स्तर पर होगी.

इनका हुआ सम्मान
सीएम शिवराज ने कार्यक्रम के दौरान सागर की श्रीबाई को उनके साहस के लिए वर्चुअल सम्मानित किया. सीएम शिवराज ने श्रीबाई की तारीफ की और कहा श्रीबाई असली हीरो हैं. कार्यक्रम में छिंदवाड़ा से रोशन विश्वकर्मा को भी सम्मानित किया गया. रोशन ने रेप के आरोपी को गिरफ्तार करवाया था. सीएम ने रोशन विश्वकर्मा के साहस की तारीफ की. इसके बाद सतना से मुन्नीबाई कौल को सम्मानित किया गया. मुन्नीबाई ने13 साल की लापता हुई बालिका को घर में सुरक्षित रखा. व्हाट्सएप में फ़ोटो वायरल कर के बालिका को उसके घर तक पहुंचाया था.सीएम ने मुन्नीबाई कौल के साहस की तारीफ की. भोपाल के मनोज गायकवाड़ को भी सम्मानित किया गया.ऑटो चालक मनोज गायकवाड़ ने 13 साल की बच्ची को बचाया था. रायसेन से भवानी सिंह और मधुसूदन  दुबे को सम्मानित किया गया. इन दोनों ने बेटी के साथ गलत काम करने वाले पिता को गिरफ्तार कराया था.
बेटियों के प्रति बदलें सोच


सीएम ने कहा बेटियों के प्रति समाज की मानसिकता को बदलना है.  2005 में सीएम बनने के बाद पहली योजना हमने लाड़ली लक्ष्मी बनाई थी. उसके बाद कई और योजनाएं इसी मकसद से चालू की गईं. सीएम ने पोर्न फिल्मों से बच्चो में बढ़ रही अपराध की मानिसकता को लेकर भी चिंता जताई. उन्होंने कहा इसे लेकर आउट ऑफ बॉक्स सोचना पड़ेगा. केवल पुलिस को गाली देने से काम नहीं चलेगा. समाज की सोच को बदलना पड़ेगा.

सीएम ने कहा कई लोग कहते हैं मुझे आज कल बहुत गुस्सा आ रहा है.लेकिन ये मेरा राजधर्म है. एमपी में माफिया को नेस्तनाबूद कर दिया जाएगा. बेटियों के साथ अपराध करने वाले छोड़े नहीं जाएंगे. इसके साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि एमपी में अब एक नई व्यवस्था बनाने जा रहे है जिसके तहत अब अगर कोई बेटी काम धंधे के लिए प्रदेश से बाहर जाएगी तो उसका रजिस्ट्रेशन किया जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज