भोपाल में नाइट कर्फ्यू की पहली रात: कलेक्टर ने खुद किया स्पॉट फाइन

मध्य प्रदेश की राजधानी में नाइट कर्फ्यू का जायदा लेने खुद कलेक्टर मैदान में उतरे.

मध्य प्रदेश की राजधानी में नाइट कर्फ्यू का जायदा लेने खुद कलेक्टर मैदान में उतरे.

नाइट कर्फ्यू की पहली रात: जायजा लेने खुद कलेक्टर अविनाश लवानिया बाजार पहुंचे. उन्होंने लोगों को समझाइश भी दी. कुछ लोगों ने जब दुकानें नहीं बंंद की तो कलेक्टर ने उन पर स्पॉट फाइन भी किया.

  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में बुधवार रात से नाइट कर्फ्यू लगा दिया गया था. नाइट कर्फ्यू का जायजा लेने कलेक्टर अविनाश लवानिया खुद राजस्व, पुलिस और नगर निगम अमले के साथ बाजार में निकले. उन्होंने इस दौरान कुछ लोगों को समझाइश दी तो कुछ लोगों के चालान भी काटे. कई लोगों के स्पॉट फाइन भी किए गए.

नाइट कर्फ्यू बुधवार रात 10 बजे से गुरुवार सुबह 6 बजे तक लगाया गया था. हालात ये थे कि बुधवार रात कर्फ्यू लगने से पहले ही करीब-करीब पूरा मार्केट बंद करा दिया गया था. पुलिस ने रात 10 बजे के बाद निकलने वाले लोगों के नाम पते नोट किए गए और उन्हें नाइट कर्फ्यू की गाइड लाइन का पालन करने की सख्त हिदायत दी.

12 बजे तक खुला रहने वाला न्यू मार्केट जल्दी बंद हो गया

भोपाल का सबसे प्रसिद्ध बाजार न्यू मार्केट रात 10 बजे पूरा बंद करवा दिया गया. आम दिनों में न्यू मार्केट में रात 12 बजे तक चहल-पहल रहती थी. लेकिन बुधवार रात न्यू मार्केट की तरफ जाने वाले लिंक रोड नंबर-1 पर वाहन बहुत कम थे. पुलिस की टीम ने कई जगह चैकिंग पॉइंट बनाए हुए थे. इसी तरह भोपाल का छह नंबर हॉकर कॉर्नर खाने-पीने के लिए शहर में सबसे ज्यादा प्रसिद्ध है. वहां भी 10 बजे तक पूरा मार्केट बंद कर दिया गया.
बड़ी संख्या बनाए गए चेकिंग पाइंट्स

न्यू मार्केट के बाद रोशनपुरा चौराहा की तरफ बढ़ने पर बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात दिखा. यहां पर रास्ता रोक कर लोगों को समझाइश दी जा रही थी कि वह कल रात 10 बजे के बाद बिना किसी काम के निकलने से बचें. सिर्फ जरूरी होने पर ही घर से निकलें, लेकिन इसके लिए पुलिस के निर्देशों का पालन जरूरी करें. इसके अलावा बाणगंगा रोड, पॉलिटेक्निक चौराहा, राजा भोज सेतु और रेत घाट पर सभी कुछ बंद था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज