पेट्रोल-डीजल मूल्य वृद्धि के विरोध में आज कांग्रेस ने बुलाया मध्य प्रदेश बंद, जनता से समर्थन की अपील

कमलनाथ ने 20 फरवरी के एमपी बंद को समर्थन देने की जनता से अपील की है.

Bhopal : कांग्रेस (Congress) के कल बुलाए गए इस आधे दिन के बंद में दूध-दवा जैसी आवश्यक सेवाएं शामिल नहीं रहेंगी.इन्हें बंद से छूट रहेगी. लेकिन बाज़ार दुकानें बंद रखने की अपील की गयी है.

  • Share this:
भोपाल.पेट्रोलियम पदार्थों की बेतहाशा मूल्य वृद्धि (Price hike) के विरोध में कांग्रेस (Congress) ने आज 20 फरवरी को बंद बुलाया है. ये बंद आधे दिन यानि दोपहर 2 बजे तक होगा. पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह और कमलनाथ सहित पार्टी के सभी बड़े नेताओं ने जनता से इस बंद में शामिल होने की अपील की है.

पेट्रोल-डीजल और रसोई गैस की कीमतों बढ़ोतरी के खिलाफ कांग्रेस ने आज 20 फरवरी शनिवार को मध्य प्रदेश बंद का ऐलान किया है.कांग्रेस ने इस आधे दिन के बंद के समर्थन में जनता से आगे आने की अपील की है. प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने अपील की है कि डीजल पेट्रोल और गैस की बढ़ती कीमतों के विरोध में लोग बंद को समर्थन दें. उन्होंने सरकार पर जनता को राहत पहुंचाने के बजाय टैक्स वसूलने का आरोप लगाते हुए कहा सबसे ज्यादा टैक्स एमपी में वसूला जा रहा है. इसके विरोध में आम जनता को कांग्रेस के बंद का समर्थन करना चाहिए.कमलनाथ ने अपील की है कि बंद में शामिल होकर सरकार को जगाने में विपक्ष का साथ दें.पार्टी ने अपने सभी नेताओं को सड़क पर उतरने के लिए कहा है.

भोपाल में रहेंगे दिग्विजय सिंह
राजधानी भोपाल में पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह बंद में शामिल होंगे. दिग्विजय सिंह ने ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी है.उन्होंने कहा-महंगाई की मार के विरोध में सभी को बंद का समर्थन करना चाहिए.मैं भोपाल में बंद के समर्थन में कांग्रेस के कार्यक्रम में शामिल होऊंगा.

मध्य प्रदेश में पेट्रोल और डीजल के दाम लगातार बढ़ रहे हैं.भोपाल में आज पेट्रोल की कीमत ₹98.20 पैसे तक जा पहुंची. यानी कि सादा पेट्रोल सौ रुपए पूरे होने में मात्र 1 रुपये 80 पैसे कम.जबकि प्रीमियम पेट्रोल ₹101.32 पैसे तक हो गया है. डीजल के दाम 88.84 पैसे पर पहुंच गए हैं. इसी तरीके के हालात पूरे प्रदेश में हैं. पेट्रोल और डीजल के बढ़ते दाम के विरोध में कांग्रेस जनता के बीच पहुंचकर सरकार के खिलाफ माहौल बनाएगी.

आवश्यक सेवाएं बंद में शामिल नहीं
कांग्रेस ने कहा है कि आधे दिन के बंद में आवश्यक सेवाओं को शामिल नहीं किया गया है.दूध-दवा-अस्पताल जैसी सुविधाओं को बंद से छूट रहेगी.लेकिन बाज़ार और दुकानें बंद में शामिल रहेंगी. लोगों से शांतिपूर्ण तरीके से बंद के समर्थन की अपील की जाएगी. इससे पहले कांग्रेस ने बंद को सफल बनाने के लिए पीसीसी दफ्तर में बैठक की. भोपाल में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने साइकिल रैली निकालकर बंद के लिए समर्थन मांगा.

बीजेपी का जवाबी हमला
बीजेपी सांसद राकेश सिंह ने कहा कांग्रेस सरकार के समय पेट्रोल और डीजल के दाम में इजाफा उनके हित साधने के लिए होता था. जबकि बीजेपी सरकार में पेट्रोल और डीजल के दाम बिजली कंपनियों के कारण बढ़ रहे हैं. देश को विकास के लिए अर्थ की जरूरत है और अर्थ तंत्र विकसित करने के लिए पैसे जुटाना जरूरी होता है. बीजेपी सांसद ने कहा पेट्रोल और डीजल के दाम सरकार के हाथ में नहीं हैं. कांग्रेस बेवजह इसके लिए सरकार को जिम्मेदार बता रही है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.