Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    कांग्रेस का बड़ा आरोप- नतीजों से पहले मुख्यमंत्री और मंत्री ने खत्म की स्वेच्छा अनुदान की राशि

    सज्जन सिंह वर्मा कमलनाथ सरकार में मंत्री थे.
    सज्जन सिंह वर्मा कमलनाथ सरकार में मंत्री थे.

    सज्जन सिंह वर्मा (Sajjan Singh Verma) ने कहा-नतीजों से पहले ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) के चेहरे का नूर उड़ गया है. दिवाली पर बीजेपी के नेता फुस्सी बम साबित होंगे.

    • Share this:
    भोपाल. मध्य प्रदेश (MP) में 28 विधान सभा सीटों के लिए हुए उप चुनाव के नतीजों (Result) का काउंट डाउन शुरू हो चुका है. कल 10 नवंबर को सुबह ही तस्वीर साफ हो जाएगी के उप चुनाव में किस दल के खाते में कितनी सीटें जाएंगी. शिवराज बने रहेंगे या कमलनाथ फिर आएंगे. उससे पहले आरोप और प्रत्यारोप का दौर चरम पर है. नतीजों से पहले पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने आरोप लगाया है कि मुख्यमंत्री सहित सभी मंत्रियों ने स्वेच्छा अनुदान की राशि तय समय से पहले खत्म कर दी है.

    कांग्रेस नेता और पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने आरोप लगाया कि स्वेच्छा अनुदान की राशि का इस्तेमाल मार्च 2021 तक होना था. लेकिन नतीजों से पहले बौखलाई बीजेपी ने स्वेच्छा अनुदान की राशि आनन-फानन में खत्म कर दी है. उन्होंने दावा किया कि 28 सीटों का उपचुनाव प्रदेश की सियासी तस्वीर बदलने वाला होगा. 2018 के मुकाबले इस बार 28 सीटों पर जनता कांग्रेस को पक्का जनादेश देगी.

    सिंधिया के चेहरे का नूर उड़ा
    सज्जन सिंह वर्मा ने कंप्यूटर बाबा से लेकर अन्य कांग्रेस नेताओं के खिलाफ हो रही कार्रवाई को दुर्भाग्यपूर्ण बताया. उन्होंने कहा कंप्यूटर बाबा सहित अन्य कांग्रेस नेताओं को साजिश के तहत निशाना बनाया जा रहा है. पूर्व मंत्री ने नतीजों से पहले ज्योतिरादित्य सिंधिया के चेहरे का नूर उड़ने की भी बात कही. दिवाली पर बीजेपी के नेता फुस्सी बम साबित होंगे.
    चुनाव आयोग की नयी व्यवस्था पर सवाल


    पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने नतीजों वाले दिन चुनाव आयोग की ओर से की गयी काउंटिंग की नयी व्यवस्था पर भी सवाल खड़े किए हैं. सज्जन सिंह वर्मा ने चुनाव आयोग के सर्कुलर पर कहा ईवीएम के साथ बैलेट पेपर की गिनती कराना ठीक नहीं है. पहले बैलेट पेपर और उसके बाद ईवीएम के नतीजों सामने लाना चाहिए.

    NEWS18 पर भरोसा
    10 नवंबर को 28 सीटों के नतीजों को लेकर सियासी दलों का भरोसा न्यूज 18 पर ही है. प्रदेश कांग्रेस कमेटी के दफ्तर में बड़ी स्क्रीन लगाई गई है. उसमें नेता न्यूज़ 18 के जरिए नतीजों का अपडेट देखेंगे. कांग्रेस दफ्तर में नतीजों के दिन पीसीसी चीफ कमलनाथ दिग्विजय सिंह से लेकर कांग्रेस के बड़े नेता वहां मौजूद रहेंगे. कांग्रेस नेता दिनेश गुर्जर ने कहा है नतीजों को लेकर सबसे भरोसेमंद चैनल न्यूज़18 है और इसी के जरिए दिन भर का अपडेट लिया जाएगा.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज