Assembly Banner 2021

Bhopal : कांग्रेस ने चुनाव आयोग से की इंदौर में फर्ज़ी मतदाताओं की शिकायत

कांग्रेस ने चुनाव आयोग से मामले पर ध्यान देने की मांग की है.

कांग्रेस ने चुनाव आयोग से मामले पर ध्यान देने की मांग की है.

BHOAPL : राज्य निर्वाचन आयोग ने 3 मार्च को मतदाता सूची का अंतिम प्रकाशन कर दिया है.कभी भी राज्य निर्वाचन आयोग नगरीय निकाय चुनाव की तारीखों का ऐलान कर सकता है.

  • Share this:
भोपाल.मध्य प्रदेश में होने वाले नगरीय निकाय चुनाव की तारीखों के ऐलान से पहले फर्जी मतदाता (Fake voters) का मामला एक बार फिर गूंज उठा है.पूर्व मंत्री और कांग्रेस विधायक (Congress MLA) सज्जन सिंह वर्मा के नेतृत्व में आज कांग्रेस के प्रतिनिधि दल ने राज्य चुनाव आयोग पहुंच कर शिकायत दर्ज करायी. कांग्रेस ने इंदौर में डेढ़ लाख फर्ज़ी मतदाताओं की शिकायत चुनाव आयोग से की है.

चुनाव आयोग को सौंपे ज्ञापन में शिकायत की गई है कि इंदौर में करीब डेढ़ लाख फर्जी मतदाता अंतिम प्रकाशन की सूची में शामिल हो गए हैं. कांग्रेस ने आयोग से मतदाता सूची को स्थगित करने की मांग की है.उसने पूरे प्रदेश की मतदाता सूची में गड़बड़ियों की जांच कराने और दोबारा सत्यापन कर प्रकाशित किए जाने की मांग की है. कांग्रेस विधायक सज्जन सिंह वर्मा ने कहा फर्जी मतदाता सूची के मामले में केंद्रीय चुनाव आयोग को संज्ञान लेकर पूरे मामले की पड़ताल करना चाहिए.

बीजेपी ने कहा-ये सिर्फ बहानेबाज़ी
वहीं कांग्रेस की फर्जी मतदाताओं को लेकर की गई शिकायत पर बीजेपी विधायक यशपाल सिंह सिसोदिया ने कहा है कि कांग्रेस अभी से हार के बहाने तलाश रही है. चुनाव आयोग के निर्देश पर मतदाता सूची को लेकर दावे आपत्तियां मांगी गई थी तब कांग्रेस संगठन मौन था. अब मतदाता सूची का अंतिम प्रकाशन होने के बाद कांग्रेसी इस तरीके के मामले उठाकर अपने हार के बहाने बताने की कोशिश कर रही है.



मतदाता अंतिम सूची का प्रकाशन
दरअसल राज्य निर्वाचन आयोग ने 3 मार्च को मतदाता सूची का अंतिम प्रकाशन कर दिया है.अंतिम सूची के प्रकाशन से पहले 15 फरवरी तक दावे आपत्तियां ली गई थीं.मतदाता सूची के अंतिम प्रकाशन के बाद कभी भी राज्य निर्वाचन आयोग नगरीय निकाय चुनाव की तारीखों का ऐलान कर सकता है. लेकिन उससे पहले मतदाता सूची को लेकर मची सियासत को लेकर बीजेपी और कांग्रेस आमने-सामने हो गए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज