Covid-19: मध्य प्रदेश में 4000 कैदियों की पैरोल अवधि 60 और दिनों के लिए बढ़ाई गई

मध्य प्रदेश में 125 जेलों में कुल 43 हजार कैदी बंद हैं (प्रतीकात्मक तस्वीर)

राज्य के गृह एवं जेल मंत्री नरोत्तम मिश्रा (Narottam Mishra) ने बताया कि वर्तमान में राज्य में लगभग चार हजार कैदी पैरोल पर जेलों से बाहर हैं. सरकार ने कोविड-19 (Covid-19) के मामलों में वृद्धि के मद्देनजर इन कैदियों की पैरोल अवधि अगले 60 दिन बढ़ाने का फैसला किया है

  • Share this:
    भोपाल. मध्य प्रदेश सरकार (Madhya Pradesh Government) ने कोरोना वायरस संक्रमण (Corona Virus) के बढ़ते मामलों के मद्देनजर लगभग चार हजार कैदियों की पैरोल अवधि (Parole Period) को 60 और दिन के लिए बढ़ाने का निर्णय लिया है. प्रदेश के गृह एवं जेल मंत्री नरोत्तम मिश्रा (Narottam Mishra) ने मंगलवार को बताया कि वर्तमान में राज्य में लगभग चार हजार कैदी पैरोल पर जेलों से बाहर हैं. सरकार ने कोविड-19 (Covid-19) के मामलों में वृद्धि के मद्देनजर इन कैदियों की पैरोल अवधि अगले 60 दिन बढ़ाने का फैसला किया है.

    राज्य में रविवार और सोमवार को क्रमश: 1,798 और 1,701 कोविड-19 के नए मामले आए हैं जबकि प्रदेश में कुल मरीजों की संख्या बढ़कर 1,94,75 पर पहुंच गई है.

    बता दें कि कैदी को उसकी सजा खत्म होने से पहले उसके अच्छे व्यवहार के वादे पर पैरोल पर अस्थायी और स्थायी तौर पर जेल से रिहा किया जाता है.



    कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर जेलों में कैदियों की तादाद कम करने के लिये प्रदेश सरकार ने मार्च में कैदियों को पैरोल पर रिहा किया था. मध्य प्रदेश की कुल 125 जेलों में बंद कुल 43 हजार कैदियों में से चार हजार कैदियों को पैरोल पर रिहा किया गया था जबकि तीन हजार कैदियों को अंतरिम जमानत पर रिहा किया गया था. कोविड-19 के दिशा-निर्देशों के अनुसार जेल विभाग जेल में प्रवेश के समय हर नए कैदी का परीक्षण करता है.

    मध्य प्रदेश में सोमवार तक कोरोना संक्रमण के कुल मामले 1,94,745 हो गए हैं जबकि इस महामारी से अब तक यहां 3,172 लोगों की मौत हो चुकी है. (भाषा से इनपुट)

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.