ट्रेन से उतरकर एक बस्ती में पहुंच गए ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर, बिजली कंपनी का कारनामा देख चौंक गए

भोपाल.मंत्री प्रद्युम्न सिंह ने इस गड़बड़ी पर कड़ी नाराज़गी जताई है.

भोपाल.मंत्री प्रद्युम्न सिंह ने इस गड़बड़ी पर कड़ी नाराज़गी जताई है.

bhopal : बिना मीटर के बिजली बिल (Electricity bill) देने के मामले में बिजली कंपनी के दो अफसरों और एक लाइनमैन पर गाज गिरी है. सहायक प्रबंधक अशोक कुमार जैन, विनोद पाटिल और लाइनमैन कामता प्रसाद शर्मा को निलंबित कर दिया गया है. ऊर्जा मंत्री प्रदुम सिंह तोमर ने रासला खेड़ी पहुंचकर शिकायत पर किया था निरीक्षण लापरवाह अफसरों के खिलाफ कार्रवाई के दिए थे निर्देश

  • Share this:
भोपाल. एमपी में करोड़ों रुपए के घाटे में चल रही बिजली कंपनी के नए कारनामे अब सामने आ रहे हैं.आज खुद ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने ही कंपनी की गड़बड़ी रंगे हाथों पकड़ ली.कंपनी ने बिना मीटर लगाए ही एक उपभोक्ता को हजारों रुपये का बिजली का बिल (Electricity bill) थमा दिया था.ये कहीं दूर का मामला नहीं बल्कि राजधानी भोपाल का है.

भोपाल के ईटखेड़ी इलाके की आस्था प्रिंस विहार कॉलोनी में बिजली कंपनी ने बड़ा कारनामा दिखाया.रासला खेड़ी में एक बिजली उपभोक्ता को कंपनी ने बिना बिजली मीटर के बिजली बिल थमा दिया और वह भी साढ़े 7 हजार रुपए का.

सौलर पैनल वाले घर में बिजली का बिल

इस मामले में शिकायत के बाद ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर सुबह उपभोक्ता के घर जा पहुंचे.उपभोक्ता एलके मानिकपुरी को बिजली कंपनी ने साढ़े 7 हजार रुपए का बिजली का बिल थमा दिया था. जबकि मानिकपुरी के घर मीटर या कनेक्शन ही नहीं था.वो अपने घर की छत पर सोलर एनर्जी के पैनल लगाकर बिजली का इस्तेमाल कर रहे हैं. मानिकपुरी ने ऊर्जा मंत्री के सामने शिकायत करते हुए कहा कि बिजली कंपनी के कर्मचारी बिजली बिल नहीं भरने पर संपत्ति कुर्क करने की धमकी दे रहे हैं.
Youtube Video

अब नपेंगे अफसर

ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने फौरन बिजली स्टाफ को बुलवा लिया और जमकर क्लास लगाई. जब कर्मचारियों से इस गड़बड़ी के बारे में पूछा गया तो वो बगलें झांकने लगे.ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने मध्य क्षेत्र विद्युत कंपनी के चीफ इंजीनियर डीपी अहिरवार को पूरे प्रकरण में जांच कर दोषी अफसरों के खिलाफ तत्काल कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं. साथ ही नसीहत दी कि बिजली बिल के मामले में आम लोगों को परेशान न किया जाए.

बिजली कंपनी और उपभोक्ताओं दोनों की होगी जांच



मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने ईटखेड़ी डिवीजन के तहत लगाए गए नए ट्रांसफार्मर की जांच कर रिपोर्ट देने के लिए भी कहा है.निरीक्षण करने पहुंचे ऊर्जा मंत्री को इस बात की भी शिकायत मिली कि ठेकेदार बिल्डर की मिलीभगत से बिजली कंपनी के अधिकारी नए ट्रांसफार्मर लगाकर अवैध तरीके से बिजली सप्लाई कर रहे हैं. ऊर्जा मंत्री ने पूरे प्रदेश की अवैध कॉलोनियों में लगे ट्रांसफार्मर की कनेक्शन प्रक्रिया और वसूली की जानकारी मंगवायी है.ऊर्जा मंत्री ने आस्था विहार कॉलोनी के लोगों को स्थाई कनेक्शन देने के भी निर्देश दिए हैं. बिजली विभाग ने भी शिकायत की कि अस्थाई कनेक्शन के तहत कॉलोनी में अवैध तरीके से बिजली का इस्तेमाल हुआ है. मंत्री ने पूरे मामले पर नाराजगी जताते हुए जांच कर रिपोर्ट मांगी है और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज