MP के राज्यपाल लालजी टंडन का निधन : मध्य प्रदेश के नेताओं ने दी महामहिम को श्रद्धांजलि
Bhopal News in Hindi

MP के राज्यपाल लालजी टंडन का निधन : मध्य प्रदेश के नेताओं ने दी महामहिम को श्रद्धांजलि
लालजी टंडन को 2019 में मध्य प्रदेश का राज्यपाल नियुक्त किया गया था (फाइल फोटो)

मूल रूप से उत्तर प्रदेश (UP) की राजनीति में सक्रिय रहने वाले लालजी टंडन (Lalji Tondon) प्रदेश की बीजेपी सरकार में कई बार मंत्री भी रहे हैं और अटल बिहारी वाजपेयी के सहयोगी के रूप में जाने जाते रहे

  • Share this:
भोपाल.मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के गवर्नर (Governor) लालजी टंडन (Lalji Tondon) का मंगलवार सुबह लखनऊ (Lucknow) के मेदांता हॉस्पिटल (Medanta Hospital) में निधन हो गया. वे 85 वर्ष के थे. यूपी सरकार में कैबिनेट मंत्री और बेटे आशुतोष टंडन ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी. लालजी टंडन का मेदांता अस्पताल में करीब डेढ़ महीने से इलाज चल रहा था. उनके निधन पर मध्य प्रदेश में कांग्रेस और बीजेपी नेताओं सभी ने श्रद्धांजलि दी है.

दिग्विजय सिंह ने दी श्रद्धांजलि
दिग्विजय सिंह ने ट्वीट कर महामहिम को अपनी श्रद्धांजलि दी. उन्होंने लिखा- महामहिम राज्यपाल लाल जी टंडन के दुखद निधन के समाचार सुन कर बेहद दुख हुआ. भाजपा/संघ की सेवा भावी चरित्र की पीड़ी अब समाप्त होती जा रही है. ईश्वर उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें. टंडन जी के परिवार जनों को मेरी संवेदनाएँ.
राकेश सिंह ने किया यादबीजेपी सांसद और पूर्व प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष राकेश सिंह ने लिखा- देश के वरिष्ठ नेता, मध्य प्रदेश के राज्यपाल माननीय लालजी टंडन के निधन का दुःखद समाचार मिला.ईश्वर दिवंगत आत्मा को श्रीचरणों में स्थान प्रदान करें एवं शोक संतप्त परिजनों को इस दुःख को सहने की शक्ति दे.अरुण यादव ने किया नमनकांग्रेस नेता अरुण यादव ने अपने ट्वीट में लिखा-नहीं रहे प्रदेश के राज्यपाल श्री लालजी टंडन. ईश्वर दिवंगत आत्मा को शांति प्रदान करें एवं उनके परिजनों को यह आघात सहन करने की शक्ति एवं साहस प्रदान करें.




11 जून से अस्पताल में थे भर्ती
टंडन को गत 11 जून को सांस लेने में परेशानी, बुखार और पेशाब में दिक्‍कत के कारण अस्‍पताल में भर्ती किया गया था. टंडन की तबीयत खराब होने के चलते उत्तर प्रदेश की राज्‍यपाल आनंदीबेन पटेल को मध्‍य प्रदेश का अतिरिक्‍त कार्यभार दिया गया है. मूल रूप से उत्तर प्रदेश की राजनीति में सक्रिय रहने वाले टंडन प्रदेश की बीजेपी सरकारों में कई बार मंत्री भी रहे हैं और अटल बिहारी वाजपेयी के सहयोगी के रूप में जाने जाते रहे. इन्होंने वाजपेयी के चुनाव क्षेत्र लखनऊ की कमान संभाली थीऔर निधन बाद लखनऊ से ही 15वीं लोकसभा के लिए भी चुने गए.

बिहार और मध्य प्रदेश के गवर्नर रहे
लालजी टंडन को 2018 में बिहार का गवर्नर बनाया गया. इसके बाद 2019 में उन्हें मध्य प्रदेश का राज्यपाल नियुक्त किया गया. लखनऊ में लालजी टंडन की लोकप्रियता समाज के हर समुदाय में थी. वे पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी के काफी करीबी और अहम सहयोगी भी थे. 2004 में लोक सभा के चुनाव की पूर्व संध्या पर अपने जन्म दिवस के अवसर पर साड़ी बांट रहे थे जिसमे भगड़र मच गई और 21 महिलाओं की मौत हो गई. बाद में टंडन को सभी आरोप से मुक्त कर दिया गया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज