चुनाव आयोग की बैठक में कांग्रेस ने की दो मंत्रियों को मंत्रिमंडल से बाहर करने की मांग

इस उपचुनाव में 9361 पोलिंग बूथ और 63 लाख 69 हजार 830 मतदाता हैं.
इस उपचुनाव में 9361 पोलिंग बूथ और 63 लाख 69 हजार 830 मतदाता हैं.

अनूपपुर, छतरपुर, रायसेन, मंदसौर, गुना, अशोकनगर, शिवपुरी, भिंड, दतिया, धार, आगर और राजगढ़ में पूरे में आचार संहिता लागू रहेगी.

  • Share this:
भोपाल.मध्य प्रदेश में 28 विधानसभा सीट पर होने वाले उपचुनाव पर चुनाव आयोग (Election commission) ने पैनी नजर रखना शुरू कर दिया है. आयोग ने उप चुनाव वाले 12 जिलों में पूरे इलाके में आचार संहिता लागू कर दी है. लेकिन सात जिलों ग्वालियर, मुरैना, सागर, इंदौर, बुरहानपुर, खंडवा, देवास में सिर्फ उस विधानसभा क्षेत्र में आचार संहिता लागू रहेगी जहां चुनाव होना है.चुनाव आयोग ने गाइड लाइन जारी कर आचार संहिता का उल्लंघन करने वालों पर कड़ी कार्रवाई का निर्देश दिया है. आयोग की बुधवार को भोपाल में हुई सर्वदलीय बैठक में राजनीतिक दलों को चुनाव की तैयारी के बारे में जानकारी दी गयी.

जिन 12 जिलों में पूरे में आचार संहिता लागू की गयी है, उनमें अनूपपुर, छतरपुर, रायसेन, मंदसौर, गुना, अशोकनगर, शिवपुरी, भिंड, दतिया, धार, आगर और राजगढ़ जिला शामिल हैं.

दो मंत्रियों को बाहर करने की मांग
सर्वदलीय बैठक में कांग्रेस के जेपी धनोपिया ने प्रदेश सरकार में शामिल दो मंत्रियों गोविंद सिंह राजपूत और तुलसीराम सिलावट को मंत्रिमंडल से बाहर करने की मांग रखी. धनोपिया के मुताबिक दोनों नेताओं का कार्यकाल 6 महीने बाद 20 अक्टूबर को खत्म हो रहा है. आयोग को इस पर ध्यान देते हुए उन्हें अभी मंत्रिमंडल से बाहर करने का फैसला करना चाहिए. कांग्रेस ने कोविड-19 के मरीजों के लिए अलग से मतदान केंद्र बनाकर मतदान करने का अधिकार देने की मांग रखी है.
राज्य की मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी वीरा राणा ने उपचुनाव 2020 के कार्यक्रम की जानकारी दी-


- चुनाव की अधिसूचना 9 अक्टूबर को प्रकाशित होगी.
-नामांकन जमा करने की आखिरी तारीख 16 अक्टूबर होगी.
-नाम वापसी 19 अक्टूबर तक हो सकेंगे.
- 3 नवंबर को मतदान होगा
-10 नवंबर को चुनाव नतीजे घोषित होंगे.

 चुनाव आयोग की पहल
चुनाव आयोग ने दिव्यांग और बुजुर्ग मतदाताओं के लिए नई पहल की है. इन लोगों के लिए पोस्टल बैलेट की व्यवस्था की जा रही है. उपचुनाव को लेकर चुनाव आयोग की तैयारियों पर नजर डालें तो...

-9361 पोलिंग बूथ पर होगी वोटिंग
-इनमें 1441 सहायक मतदान केंद्र शामिल हैं
-एक हजार से ज्यादा मतदाता वाले बूथ को सहायक मतदान केंद्र बनाया गया है.
-28 विधानसभा सीटों पर कुल 63 लाख 69 हजार 830 मतदाता अपने वोट का इस्तेमाल करेंगे.
-इसमें पुरुष मतदाताओं की संख्या 33 लाख 73 हजार और महिला मतदाता की संख्या 29 लाख 77 हजार 808 होगी.
- सर्विस मतदाता के रूप में 18704 मतदाता अपने मत का इस्तेमाल करेंगे.
-कोविड-19 के कारण इस बार ईवीएम की संख्या 120 से बढ़ाकर 140 फ़ीसदी और वीवीपीएटी की संख्या 130 से बढ़ाकर 150% की गई है.

- उपचुनाव में कुल 24 हजार 3 बैलेट यूनिट का इस्तेमाल होगा.
- उप चुनाव कराने के लिए 56 हजार मतदान कर्मी नियुक्त किए गए हैं.
-उपचुनाव के दौरान कोविड-19 के संबंध में आयोग की गाइडलाइन का पालन करना होगा।
-घर-घर प्रचार अभियान के दौरान उम्मीदवार समेत कुल 5 व्यक्ति शामिल हो सकेंगे.
-रोड शो में पांच वाहन शामिल होंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज