Home /News /madhya-pradesh /

BHOPAL : स्कॉलरशिप के एवज में छात्र से रिश्वत ले रहा सहा.संचालक गिरफ्तार

BHOPAL : स्कॉलरशिप के एवज में छात्र से रिश्वत ले रहा सहा.संचालक गिरफ्तार

MP NEWS- सहायक संचालक 25 हजार रुपये की रिश्वत लेते पकड़े गए.

MP NEWS- सहायक संचालक 25 हजार रुपये की रिश्वत लेते पकड़े गए.

Bhopal-ये कार्रवाई एक शिकायत के आधार पर की गयी.लेकिन बताया जा रहा है कि सरकार की विदेश अध्ययन योजना में छात्रों के चयन से लेकर विदेश भेजने तक के लिए अफसरों ने कई और छात्रों और उनके अभिभावकों से रिश्वत ली है.

भोपाल. पिछड़ा वर्ग अल्पसंख्यक कल्याण विभाग के सहायक संचालक एच बी सिंह को लोकायुक्त (Lokayukta) पुलिस ने रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया है. सिंह ये रिश्वत (Bribe) एक छात्र को विदेश में पढ़ाई के लिए स्कॉलरशिप देने के एवज में ले रहे थे.

विदेश में पढ़ाई के लिए सरकार की योजना में अड़चन लगाने वाले पिछड़ा वर्ग और अल्पसंख्यक कल्याण विभाग के सहायक संचालक एचबी सिंह को लोकायुक्त पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. सिंह ने धार के वल्लभ पाटीदार से उनके बेटे को स्कॉलरशिप का पैसा देने के बदले रिश्वत की मांग की थी. सिंह ने दो लाख की डिमांड रखी थी. लेकिन मामला पचास हजार पर सैटल हुआ. पाटीदार ने इसकी शिकायत लोकायुक्त पुलिस से कर दी.उनकी शिकायत पर लोकायुक्त पुलिस ने सहायक संचालक को ₹25000 की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ लिया.

10 दस्तावेज़ों की मांग
सहायक संचालक एच बी सिंह जब रिश्वत की राशि लेने सतपुड़ा भवन के द्वार पर आए, लोकायुक्त पुलिस की टीम ने उन्हें वहीं धरदबोचा. सतपुड़ा भवन की दूसरी मंजिल पर बने पिछड़ा वर्ग और अल्पसंख्यक कल्याण विभाग पर सरकार की विदेश में अध्ययन योजना की ज़िम्मेदारी है. इस योजना के तहत चयन कमेटी छात्रों को स्कॉलरशिप के लिए चुनती है. फिर छात्र को स्कॉलरशिप दी जाती है. लेकिन दस्तावेज पूरे होने के बाद भी एच बी सिंह छात्र से 10 तरह के दस्तावेज मांग कर रहे थे. इससे परेशान छात्र ने लोकायुक्त पुलिस में शिकायत कर दी.

पिता रिश्वत लेकर आए
शिकायत करने वाले वल्लभ पाटीदार का कहना है चयन कमेटी में उनके बेटे का चयन यूएसए में पढ़ाई के लिए हुआ है. सरकार की तरफ से दी जाने वाली स्कॉलरशिप की राशि देने के एवज में अफसर ये रिश्वत मांग रहा था.

लोकायुक्त अफसर का बयान
लोकायुक्त निरीक्षक सलिल शर्मा का कहना है जो शिकायत मिली थी उसी की जांच में सुबूत मिलने के बाद ही पूरी कार्रवाई की गई. इसमें सहायक संचालक एचबी सिंह को पकड़ा गया है.

और भी कई मामले
ये कार्रवाई एक शिकायत के आधार पर की गयी.लेकिन बताया जा रहा है कि सरकार की विदेश अध्ययन योजना में छात्रों के चयन से लेकर विदेश भेजने तक के लिए अफसरों ने कई और छात्रों और उनके अभिभावकों से रिश्वत ली है. पुलिस इस पूरे मामले की पड़ताल कर रही है.

Tags: Bhopal, Bribe, Lokayukta

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर