Bhopal: इस वजह से 2 लाख में बेची लड़की, पार्सल की तरह यहां से वहां घूमती रही

महिला दोस्त ने ही नाबालिग लड़की को बेचने का इंतजाम किया. (सांकेतिक फोटो)

महिला दोस्त ने ही नाबालिग लड़की को बेचने का इंतजाम किया. (सांकेतिक फोटो)

नाबालिग लड़की को उसकी दोस्त ने ही अपनी बहन के पास भेजा था. महिला लड़की को लेकर रतलाम आ गई और उसे किसी पूजा को बेच दिया. फिर पूजा ने उसे महेश को बेच दिया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 2, 2021, 7:09 PM IST
  • Share this:

भोपाल. निशातपुरा इलाके  की 10वीं की एक छात्रा को ब्यूटी पार्लर संचालिका और उसके साथियों ने रतलाम ले जाकर 2 लाख रुपए में बेच दिया. पुलिस ने नाबालिग को बरामद कर उसे खरीदने वाले युवक और दो बहनों को गिरफ्तार कर लिया है. जबकि, एक महिला और एक कार ड्राइवर की तलाश की जा रही है.

एएसपी जोन-4 दिनेश कुमार कौशल के मुताबिक, इलाके में रहने वाली 15 साल की किशोरी 10वीं में पढ़ती है. गत 22 दिसंबर को वह घर से बिना बताए कहीं चली गई. तलाश करने के बाद भी जब उसका कुछ पता नहीं चला तो भाई ने 27 दिसंबर को रिपोर्ट दर्ज कराई.

एक जगह से दूसरी जगह भेजते रहे लड़की को

पुलिस ने अज्ञात पर अपहरण का केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी. जांच के दौरान पता चला कि किशोरी का एक ब्यूटी पार्लर में आना-जाना था और संचालिका सोना से उसकी दोस्ती भी थी. पुलिस ने संचालिका से पूछताछ की तो उसने बताया कि नाबालिग को गांधी नगर में रहने वाली अपनी बहन मोना के पास भेजा था. जानकारी के मुताबिक, मोना उसे किसी कार ड्राइवर अर्जुन के साथ रतलाम लेकर गई और पूजा के हवाले कर दिया. पूजा ने 2 लाख रुपए में उसे महेश राठौर को बेच दिया था.
आरोपी ने शादी के लिए खरीदी थी नाबालिग

उधर, पुलिस ने रतलाम के महेश राठौर के घर से नाबालिग को बरामद कर लिया. पूछताछ में महेश ने स्वीकार किया कि उसने पूजा से दो लाख रुपए में शादी के लिए नाबालिग को खरीदा है. पुलिस ने महेश राठौर, मोना और सोना को गिरफ्तार कर लिया है. रतलाम की पूजा और ड्राइवर अर्जुन की तलाश की जा रही है.  दोनों की तलाशी के लिए कई जगह पुलिस ने दबिश दी है और नाकेबंदी भी कराई, लेकिन फिलहाल कुछ पता नहीं चला है. पुलिस का कहना है कि हो सकता है कि दोनों अंडरग्राउंड हो गए हों.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज