• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • मध्य प्रदेश विधानसभा का मॉनसून सत्र 9 अगस्त से, सिर्फ 4 बैठकें होंगी

मध्य प्रदेश विधानसभा का मॉनसून सत्र 9 अगस्त से, सिर्फ 4 बैठकें होंगी

कोरोना की दूसरी लहर के कारण विधानसभा का पिछला सत्र समय से पहले खत्म कर दिया गया था.

कोरोना की दूसरी लहर के कारण विधानसभा का पिछला सत्र समय से पहले खत्म कर दिया गया था.

MP Assembly Session : इस सत्र में कोरोना की दूसरी लहर से बने हालातों, मारे गए लोगों का आंकड़ा और स्वास्थ सेवाओं की कमी के मुद्दे पर विपक्ष सरकार को घेरने की कोशिश करेगा. इसके अलावा बढ़ती बेरोजगारी और खाद बीज की किल्लत समेत कई मुद्दों पर विपक्ष सरकार को घेरने की तैयारी में है.

  • Share this:
भोपाल. मध्यप्रदेश विधानसभा (MP Assembly Session) का फिर सत्र होने वाला है. विधानसभा का मानसून सत्र 9 अगस्त से शुरू होगा जो 12 अगस्त यानि चार दिन चलेगा. इसकी अधिसूचना आज जारी कर दी गयी है. 4 दिन के छोटे सत्र में कुल 4 बैठकें होंगी.

कोरोना काल की दूसरी लहर के बाद होने वाला विधानसभा का मानसून सत्र कई मायनों में महत्वपूर्ण होगा. सरकार को घेरने के लिए विपक्ष के पास कई मुद्दे हैं. मानसून सत्र में बरसने के लिए विपक्ष पहले से तैयारी में जुटा हुआ है. इस सत्र में कोरोना की दूसरी लहर से बने हालातों, मारे गए लोगों का आंकड़ा और स्वास्थ सेवाओं की कमी के मुद्दे पर विपक्ष सरकार को घेरने की कोशिश करेगा. इसके अलावा बढ़ती बेरोजगारी और खाद बीज की किल्लत समेत कई मुद्दों पर विपक्ष सरकार को घेरने की तैयारी में है.

दोनों तैयार
विधानसभा के मानसून सत्र में विपक्ष के सवालों के जवाब देने के लिए सत्ता पक्ष भी तैयारी में है. पूर्ण काल के दौरान सरकार के उठाए गए कदमों और सरकार की योजनाओं के सहारे सत्ता पक्ष विपक्ष के सवालों का जवाब देगा. 12 जुलाई को विधानसभा सत्र की अधिसूचना जारी होने के साथ ही विधानसभा में उठने वाले मुद्दों को लेकर पक्ष और विपक्ष तैयारियों में जुट गए हैं.

बजट सत्र तय समय से 10 दिन पहले हुआ था स्थगित
कोरोना काल के दौरान इससे पहले हुआ विधानसभा का बजट सत्र अपने तय समय से पहले खत्म हो गया था. विधानसभा का बजट सत्र तय अवधि से 10 दिन पहले कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए स्थगित कर दिया गया था. इस बार भी कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर की आशंका को देखते हुए उसके तय समय से पहले विधानसभा का सत्र छोटा रखा गया है ताकि छोटे सत्र में बड़े नीतिगत फैसले लिए जा सकें.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज